विमान में बदसलूकी, ऐसा है कार्रवाई का अधिकार

विमान में यात्रियों के नशे में मारपीट और अश्लील घटनाएं करने का क्रम बढ़ा है। लेकिन इन प्रकरणों में विमानन कंपनियां जो कार्रवाई करती हैं, वह कैसी हैं इससे सुरक्षा का आंकलन हो सकता है।

विमान यात्राओं के बीच बीते कुछ समय से मारपीट का समाचार मिल रहे हैं। इसमें देखा गया है कि, विमानन कंपनियां हवाई अड्डे पर उतरने के बाद दोनों पक्षों को एक साथ बैठाकर समझा बुझाकर समझौता करा देती हैं। इसके कारण प्रकरण पंजीकृत नहीं होता और मारपीट करनेवाला या अश्लील घटना करनेवाला फिर किसी घटना को करने के लिए मुक्त हो जाता है।
देश की बड़ी विमानन कंपनी एयर इंडिया में अमेरिका से भारत की उड़ान के बीच एक वयीन महिला यात्री पर एक व्यक्ति ने पेशाब कर दिया था। यह घटना सुनते ही मन में आक्रोश जाग जाता है, परंतु विमानन कंपनी ने इस प्रकरण में खानापूर्ति करके छोड़ दिया। यह प्रकरण तब सामने आया है जब डायरेक्टर जनरल सिविल एविएशन ने जांच के लिए कमेटी बैठाई। ऐसे प्रकरणों में यात्रियों के अधिकार क्या है और विमानन कंपनियों को क्या कार्रवाई करना चाहिये इसकी जानकारी दी विमानन क्षेत्र के विशेषज्ञ चंद्रशेखर नेने..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here