दिल्ली तेरी यमुना इसलिए मैली!

केजरीवाल सरकार यमुना में अमोनिया के स्तर में बढ़ोतरी के लिए हरियाणा को दोष देती रही है। इसका पर्दाफाश करने के लिए दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी कालिंदी कुंज, सोनिया विहार के बाद नजफगढ़ नाले के उस स्थान पर पहुंचे जहां से करोड़ो लीटर गंदा पानी यमुना को जहरीला बनाता है। उनके साथ जिला अध्यक्ष मोहन गोयल, महामंत्री संजय त्यागी, उपाध्यक्ष आनंद त्रिवेदी भाजपा नेता नीलकांत बक्शी सहित कई भाजपा पदाधिकारी मौजूद थे।

साथ पहुंचे पत्रकारों से बात करते हुए मनोज तिवारी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल जिस पाप को छुपाना चाहते हैं मैं उसका पर्दाफाश करने के लिए यहां आया हूं।दिल्ली की यमुना हरियाणा के पानी से नहीं,बल्कि दिल्ली की गंदगी को समेटे नजफगढ़ नाले से मैली हो रही है और 7 वर्ष बीत जाने के बाद भी केजरीवाल इसको नहीं रोक पाए हैं। उन्होंने कहा कि मैं भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय से निवेदन करता हूं कि वह यमुना को जहरीला बनानेवाली दिल्ली सरकार के कुकृत्य का संज्ञान लें और दिल्ली को जहरीला बनने से बचा ले। उन्होंने कहा कि केजरीवाल दिल्ली की जनता और मीडिया के साथ-साथ भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय को भी यमुना प्रदूषण पर गुमराह करते आ रहे हैं।

सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि गंदी यमुना का बहाना बनाकर अरविंद केजरीवाल पूर्वांचल को निशाना बना रहे हैं, और महापर्व छठ को यमुना की गंदगी के लिए दोषी साबित करने पर तुले हैं। यह हर पूर्वांचलवासी के लिए बड़े दुख का विषय है क्योंकि कोई पूर्वांचलवासी महापर्व छठ का अपमान नहीं सह सकता उन्होंने पूर्वांचलवासियों से एक बार फिर केजरीवाल की साजिश से सावधान रहने की अपील की और धूमधाम से छठ मनाकर अपनी ताकत और महापर्व छठ के महत्व का ज्ञान केजरीवाल को कराने का आह्वान किया। उनका कहना है कि प्रयास सिर्फ इतना है की साजिश बेनकाब हो और दिल्ली की जीवनदायिनी यमुना जिसे केजरीवाल सरकार तिल-तिल कर दम तोड़ने को मजबूर कर रही है उसे बचाया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here