टोक्यो पैरालिंपिकः अवनि लोखरा ने रचा इतिहास, एयर राइफल में साधा सोने पर निशाना

जयपुर की रहने वाली अवनि इस प्रतियोगिता क्वालिफिकेशन राउंड में 21 निशानेबाजों मे सातवें स्थान पर थीं। उन्होंने 60 सीरीज के छह शॉट के बाद 621.7 का स्कोर प्राप्त किया।

टोक्यो पैरालिंपिक में भारत की अवनि लोखरा ने गोल्ड मेडल जीतकर देश का गौरव बढ़ाया है।19 वर्षीय अवनि ने महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफल के वर्ग एसएच-1 में प्रथम स्थान प्राप्त करने में सफलता हासिल की। उन्होंने 249.6 का स्कोर बनाया और प्रथम स्थान पर रहीं। पैरालंपिकि के इतिहास में भारत को यह पहला गोल्ड मेडल मिला है।

जयपुर की रहने वाली अवनि इस प्रतियोगिता क्वालिफिकेशन राउंड में 21 निशानेबाजों मे सातवें स्थान पर थीं। उन्होंने 60 सीरीज के छह शॉट के बाद 621.7 का स्कोर प्राप्त किया। यह शीर्ष 8 निशानेबाजों में स्थान बनाने के लिए पर्याप्त था। अवनि ने प्रारंभ से आखिर तक निरंतरता बनाए रखा और लगातार 10 से अधिक स्कोर बनाए। चीन की झांग कुइपिंग और यूक्रेन कीइरियाना शेतनिक 626.0 पैरालिंपिक क्वालीफिकेशन रिकॉर्ड के साथ पहले दो स्थान हासिल किए। पीएम नरेंद्र मोदी ने इस सफलता पर अवनि लोखरा को ट्वीट कर बधाई दी है।

29 अगस्त भी रहा यादगार
इससे पहले 29 अगस्त को टोक्यो पैरालिंपिक में भारत को दूसरा पदक मिला था। पैरा एथलीट निषाद कुमार ने यह पदक प्राप्त किया। उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और जंप टी-47 वर्ग में सिल्वर मेडल हासिल करने में सफलता प्राप्त की। मुकाबले में निषाद ने 2.06 मीटर की कूद लगाते हुए भारत को दूसरा मेडल दिलाने में सफलता प्राप्त की। मेडल प्राप्त करने के साथ ही उन्होंने एक एशियाई रिकॉर्ड भी बनाया।

ये भी पढ़ेंः टोक्यो पैरालिंपिकः एक दिन, तीन मेडल! जानिये, किस खिलाड़ी ने दिलाया देश को कौन-सा पदक

एक दिन, तीन मेडल
29 अगस्त भारत के लिए काफी अच्छा रहा। इस दिन जहां भाविनाबेन पटेल ने टोक्यो पैरालिंपिक के विमेंस टेबल टेनिस की क्लास-4 कैटेगरी में सिल्वर मेडल जीता, वहीं निषाद कुमार ने हाई जंप में भी सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया। इनके साथ ही डिस्क थ्रो में विनोद कुमार ने ब्रॉन्ज मेडल जीतकर देश का गौरव बढ़ाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here