टोक्यो पैरालिंपिकः एक दिन, तीन मेडल! जानिये, किस खिलाड़ी ने दिलाया देश को कौन-सा पदक

हिमाचल प्रदेश के ऊना के रहने वाले निषाद कुमार का यहां तक पहुंचने का सफर काफी संघर्षपूर्ण रहा, लेकिन उन्होंने हर बाधा को पार करते हुए देश को गौरवान्वित किया।

टोक्यो पैरालिंपिक में भारत को दूसरा पदक मिला है। पैरा एथलीट निषाद कुमार ने यह पदक प्राप्त किया है। उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और जंप टी-47 वर्ग में सिल्वर मेडल हासिल करने में सफलता प्राप्त की। मुकाबले में निषाद ने 2.06 मीटर की कूद लगाते हुए भारत को दूसरा मेडल दिलाने में सफलता प्राप्त की। मेडल प्राप्त करने के साथ ही उन्होंने एक एशियाई रिकॉर्ड भी बनाया।

एक दिन, तीन मेडल
29 अगस्त भारत के लिए काफी अच्छा रहा। इस दिन जहां भाविनाबेन पटेल ने टोक्यो पैरालिंपिक के विमेंस टेबल टेनिस की क्लास-4 कैटेगरी में सिल्वर मेडल जीता, वहीं निषाद कुमार ने हाई जंप में भी सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया। इनके साथ ही डिस्क थ्रो में विनोद कुमार ने ब्रॉन्ज मेडल जीतकर देश का गौरव बढ़ाया। पीएम मोदी ने इसके लिए अन्य विजेताओं के साथ ही विनोद कुमार को भी ट्वीट कर बधाई दी।

हाई जंप मुकाबले में अमेरिका के रोडरिक टाउनसेंड और डलास वाइज ने क्रमशः गोल्ड और ब्रॉन्ज मेडल जीतने में सफलता प्राप्त की। अमेरिका के टाउनसेंड ने जहां 2.15 मीटर कूद लगाई, वहीं वाइज ने 2.06 मीटर कूद लगाई। निषाद और वाइज दोनों का स्कोर बराबर रहा, लेकिन निषाद ने अपने पहले प्रयास में 2.02 मीटर की कूद लगाई थी, जबकि वाइज ने दो मीटर की। इस तरह निषाद ने सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया। भारत के रामपाल चाहर 1.94 मीटर की कूद के साथ पांचवें स्थान पर रहे। निषाद की इस जीत पर पीएम मोदी ने उन्हें बधाई दी है।

संघर्षपूर्ण रहा है निषाद का यहां तक का सफर
हिमाचल प्रदेश के ऊना के रहने वाले निषाद कुमार का यहां तक पहुंचने का सफर काफी संघर्षपूर्ण रहा, लेकिन उन्होंने हर बाधा को पार करते हुए देश को गौरवान्वित करने तक का सफर पूरा किया। वे 8 साल की उम्र में एक हादसे का शिकार हो गए थे। इस हादसे में उनका दायां हाथ कट गया था। इसके साथ ही वे इस साल की शुरुआत में बेंगलुरू के साईं केंद्र में प्रशिक्षण के दौरान कोरोना संक्रमित भी हो गए थे।

ये भी पढ़ें – तुम्हारी शपथ… पुलिसवाले नहीं मांग सकते अब

निषाद से पहले भाविना ने भी जीता था पदक
टोक्यो पैरालिंपिक में भारत का यह दूसरा पदक है। निषाद से पहले भारत की पैरा टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल ने भी सिल्वर मेडल हासिल करने में सफलता प्राप्त की थी। वे 29 अगस्त को टोक्यो पैरालिंपिक में क्लास-4 वर्ग में चीन की झोग यिंग से हार गईं। भाविना भारत के लिए पैरालिंपिक में पदक जीतने वाली पहली टेबल टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं। इसके साथ ही वे यह उपलब्धि हासिल करने वाली  पीसीआइ प्रमुख दीपा मलिक के बाद दूसरी महिला एथलीट हैं। दीपा ने रियो 2016 में महिलाओं के शटपुट में सिल्वर मेडल हासिल किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here