गोल्ड से चूके रवि दहिया! सिल्वर मेडल जीतनेवाले दूसरे भारतीय पहलवान

भारतीय पहलवान रवि दहिया को रुस के पहलवान जवूर उगुएव से 57 किलोग्राम भार वर्ग की फ्रीस्टाइल कैटिगरी में हार का सामना करना पड़ा।

रवि दहिया गोल्ड मेडल के लिए जारी मुकाबले में रुस के पहलवान को मात नहीं दे सके। 5 अगस्त को इस हार के बावजूद उन्होंने भारत को टोक्यो ओलंपिक में कुश्ती का सिल्वर मेडल दिलाने में सफल हुए। रवि दहिया को रुस के पहलवान जवूर उगुएव से 57 किलोग्राम भार वर्ग की फ्रीस्टाइल कैटिगरी में हार का सामना करना पड़ा। रवि दहिया को ओलंपिक में जीतने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बधाई दी।

मुकाबले में शुरू से ही रुस का पहलवान जवूर रवि दहिया पर हावी रहे और अपनी बढ़त बनाए रखी। हालांकि रवि दहिया ने भी उन्हें कड़ी टक्कर दी लेकिन आखिरकार वे हार गए।

इस तरह टूटा गोल्ड का सपना
रवि दहिया ने पहले पीरियड की शुरुआत में 2-2 की बराबरी कर ली थी, लेकिन रुस के जवूर ने जबरदस्त शुरुआत करते हुए स्कोर को 4-2 पर पहुंचा दिया। इसके बाद उसने रवि दहिया को कोई भी मौका नहीं दिया। एक वक्त जवूर 7-2 से आगे चल रहे थे, हालांकि रवि ने दो पॉइंट और प्राप्त कर लिए, लेकिन मुकाबले में जीत नहीं प्राप्त कर पाए।

ये भी पढ़ेंः 24 गोल फेल, जर्मनी का निकला तेल! सोशल मीडिया पर छाये हॉकी वीर

सिल्वर मेडल जीतना भी बड़ी उपलब्धि
रवि दहिया द्वारा सिल्वर मेडल प्राप्त किया जाना भी उनके और देश के लिए बड़ी उलब्धि है। उन्होंने ओलंपिक में पहली बार भाग लिया और मेडल जीतकर देश का नाम रौशन किया। इस जीत के साथ उन्होंने भारतीय पहलवान सुशील कुमार के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। 2008 के बीजिंग ओलंपिक के बाद से भारत लगातार कुश्ती में मेडल प्राप्त कर रहा है।

विनेश फोगाट और अंशू की भी हार
महिला पहलवान विनेश फोगाट के मुकाबले में भारत को निराशा मिली। विनेश को बेलारुस की पहलवान के मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। वहीं पहलवान अंशु मलिक भी ब्रॉन्ज मेडल में रुस की पहलवान वलेरिया कोबलोवा से हार का सामना करना पड़ा। वे 57 किलोग्राम भार वर्ग के रेपचेज मुकाबले में उतरी थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here