आरसीबी के खिलाफ मिली हार पर राहुल ने जताई निराशा, कही ये बात!

लखनऊ सुपर जायंट्स (एलएसजी) राहुल ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ हारने के बाद निराशा जताते हुए कहा कि उनकी टीम और बेहतर कर सकती थी।

लखनऊ सुपर जायंट्स (एलएसजी) के कप्तान केएल राहुल ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ मिली हार पर निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी टीम और बेहतर कर सकती थी।

आरसीबी के कप्तान फाफ डु प्लेसिस की 96 रनों की पारी और जोश हेजलवुड की चार विकेट की बदौलत आरसीबी ने यहां डॉ डी वाई पाटिल स्टेडियम में एलएसजी को 18 रनों से हराया।

मैच के बाद राहुल ने कहा, “मुझे लगता है कि हमने वास्तव में अच्छी शुरुआत की, पहले ओवर में 2 विकेट लेने और फिर पावरप्ले में 50 रन देने के बाद, हम बेहतर कर सकते थे। इस पिच पर हमने 15-20 अतिरिक्त रन दिए। लक्ष्य का पीछा करते वक्तत शीर्ष तीन बल्लेबाजों में से एक को अंत तक रूकने की जरूरत थी, दुर्भाग्य से हम ऐसा नहीं कर सके। हमारे पास वास्तव में एक अच्छी टीम है, हम जिस तरह से खेल रहे हैं, उससे बहुत खुश हूं, हां कुछ मैचों में हम बेहतर कर सकते थे।”

ये भी पढ़ें – भाजपा का आरोप, ‘रोहिंग्या-बांग्लादेशियों की मददगार केजरीवाल सरकार’

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि हमने राजस्थान के खिलाफ अच्छी शुरुआत की और यहां आरसीबी को भी हमने दबाव में रखा लेकिन हम अधिक समय तक टिके नहीं रह सके। सभी ने अच्छा प्रदर्शन किया और हर कोई अच्छी फॉर्म में दिख रहा है और सभी ने हमारे लिए स्कोर किया। महत्वपूर्ण है कि एक या दो खिलाड़ी जिनका दिन अच्छा हो, उन्हें टीम को और खुद को आगे बढ़ाने की जरूरत है।”

 इस मुकाबले में आरसीबी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान फाफ डु प्लेसिस के 96 और शाहबाज अहमद के 26 रनों की बदौलत निर्धारित 20 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 181 रन बनाए। इन दोनों के अलावा ग्लेन मैक्सवेल ने भी 23 रनों की छोटी लेकिन तेज पारी खेली। लखनऊ की तरफ से जेसन होल्डर ने और दुष्मंता चमीरा ने 2-2 व क्रुणाल पांड्या ने 1 विकेट लिया।

जवाब में लखनऊ की टीम 20 ओवरों में 8 विकेट पर 163 रन ही बना सकी। लखनऊ की तरफ से क्रुणाल पांड्या ने 42, कप्तान केएल राहुल ने 30 और मार्कस स्टॉयनिस ने 24 रन बनाए। आरसीबी की तरफ से जोश हेजलवुड ने 4, हर्षल पटेल ने 2 और मोहम्मद सिराज और ग्लेन मैक्सवेल ने 1-1 विकेट लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here