हरियाणा, झारखंड और अब दिल्ली में लव जिहाद में फेल युवक ने नाबालिग हिंदू लड़की के साथ किया ऐसा

झारखंड का मामला शांत भी नहीं हुआ है कि दिल्ली में भी एकतरफा प्यार और लव जिहाद में फेल होने का दिल दहला देने वाला साइड इफेक्ट देखने को मिला है।

हरियाणा के फरीदाबाद में 2020 में एक छात्रा को लव जिहाद में असफल मुस्लिम युवक ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। 23 अगस्त को झारखंड के दुमका भी लव जिहाद में फेल होने के बाद एक मुस्लिम युवक ने उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। बाद में उस लड़की की मौत हो गई थी। और अब दिल्ली में भी अरमान अली नामक एक युवक ने 9वीं में पढ़ने वाली छात्रा को गोली मार दी है।

झारखंड का मामला शांत भी नहीं हुआ है कि दिल्ली में भी एकतरफा प्यार और लव जिहाद में फेल होने का दिल दहला देने वाला साइड इफेक्ट देखने को मिला है। यहां अरमान अली नामक एक युवक ने 9वीं की एक छात्रा को गोली मार दी। हालांकि उसकी जान बच गई है। यह घटना 25 अगस्त की है। पुलिस ने आरोपी अरमान अली को गिरफ्तार किया है।

परिजनों का आरोप
पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि आरोपी अरमान अली पिछले एक साल से छात्रा को परेशान कर रहा था। वह उनके ही मोहल्ले में रहता था। पीड़िता स्कूल से लौट रही थी, तभी आरोपी ने उसे पीछे से गोली मार दी। छात्रा की पीठ में गोली लगी है। उसे बात्रा अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एक ही मोहल्ले में रहते थे पीड़िता और आरोपी
पीड़िता अपने परिवार के साथ दिल्ली के संगम विहार ई-ब्लॉक में रहती है। वह कैंबरीज इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ती है। इसी स्कूल में उसका भाई भी पढ़ता है। आरोपी काफी दिनों से छात्रा का पीछा कर रहा था। 25 अगस्त को उसकी मां उसे लेने गई थी। छात्रा अपनी मां और छोटे भाई के साथ लौट रही थी। जब वे बी-ब्लॉक में मकान नंबर 15 के सामने पहुंचे तो अरमान अली अपने एक साथी के साथ लड़की के पास आया और पीछे से गोली मार दी। छात्रा वहीं गिर कर बेहोश हो गई। इस बीच आरोपी कुछ दूरी पर खड़ी मोटरसाइकिल पर बैठकर फरार हो गया।

एक साल से कर रहा था परेशान
छात्रा के पिता ने बताया कि आरोपी अरमान अली उनके ही मोहल्ले में रहता था। उनकी बेटी ने फेसबुक पर दोस्ती का अनुरोध स्वीकार कर लिया था। तभी से वह पीड़िता को परेशान कर रहा था। उन्हें उनकी बेटी ने दो महीने पहले इस बारे में जानकारी दी थी। उसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी बीट अफसर को दी थी। तब अरमान गायब हो गया था। हालांकि पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया था और कोई भी कार्रवाई नहीं की थी।

हरियाणा में गोली मारकर कर दी थी हत्या
हरियाणा के बल्लभगढ़ में लव जिहाद के प्रयास का 2020 में मामला प्रकाश में आया था। फरीदाबाद के बल्लभगढ़ के नूंह के कांग्रेस विधायक आफताब अहमद के चचेरे भाई ने कॉलेज से लौट रही 21 वर्षीया छात्रा की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वह छात्रा पर धर्म बदलकर शादी करने का दबाव डाल रहा था। इससे दो साल पहले उसने छात्रा को अपहरण करने की कोशिश की थी।

कॉलेज के गेट पर अपने भाई का इंतजार कर रही थी लड़की
छात्रा शाम चार बजे घर लौटने के लिए अपने भाई का इंतजार कर रही थी। तभी तौसीफ नामक लड़का आपने दोस्त रेहान के साथ आया था। तौसीफ ने लड़की को गाड़ी में बैठाने की कोशिश की थी। लेकिन लड़की बैठने को तैयार नहीं थी। इससे नाराज तौसीफ ने उसे गोली मार दी। पुलिस ने तौसीफ और रेहान को गिरफ्तार किया था। तौसीफ फिजियोथैरेपी का कोर्स कर रहा था। तौसीफ के दादा कबीर अहमद पूर्व विधायक हैं। चचेरे भाई आफताब अहमद मेवात जिले की नूंह सीट से कांग्रेस विधायक हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here