जोधपुर में भाजपा विधायक के घर के बाहर खड़ी बाईक फूंकी, पुलिस पर किया पथराव! जानिये, कैसे भड़की हिंसा की आग

राजस्थान के जोधपुर में उपद्रवियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। इस घटना में कुछ लोग घायल हो गए हैं। फिलहाल जिले में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है।

राजस्थान के जोधपुर में झंडे और लाउडस्पिकर पर शुरू हुए विवाद के बाद शुरू हुआ हंगामा रुकता नहीं दिख रहा है। 3 मई को एक बार फिर दोनों धर्म के लोगों में झड़प हो गई। यहां तक कि मुसलमानों ने भारतीय जनता पार्टी के विधायक सूर्यकांत व्यास के घर के बाहर खड़ी कई बाइकों को आग के हवाले कर दिया। मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

इससे पहले सुबह दंगाइयों और पथरबाजों से निपटने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया था और आंसू गैस भी छोड़े थे। विवाद 2 मई की रात शुरू हुआ, जो बाद में हिंसा में बदल गया। हिंसा और पत्थरबाजी में डीसीपी ईस्ट और उदयमंदिर एसएचओ घायल हो गए हैं।

मुख्यमंत्री ने बुलाई बैठक
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस घटना को गंभीरता से लिया है और हाई लेवल मीटिंग बुलाई है। इस मीटिंग मे पुलिस महानिदेशक के साथ ही  अन्य बड़े अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे।

यहां से शुरू हुआ विवाद
जोधपुर में जालोरी गेट क्षेत्र में हिंदू संगठन नें परशुराम जंयती के अवसर पर भगवा झंडा फहराया था। जिसकी जगह मुसलमानों ने ईद का झंडा लगा दिया और साथ ही लाउडस्पिकर भी लगा दिया। सुबह जब हिंदू संगठन के लोगों ने इसे देखा तो वे गुस्से में आ गए और उन्होंने ईद का झंडा उतार दिया। इसके बाद मुसलमानों ने हंगामा और पथराव शुरू कर दिया। यहां तक कि भाजपा विधायक के घर के बाहर खड़ी की गई कई बाइक में भी आग लगा दी।

पुलिस ने किया लाठीचार्ज
उपद्रवियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। इस घटना में कुछ लोग घायल हो गए हैं। फिलहाल जिले में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here