पालघर में बिजली विभाग के दो अभियंता गिरफ्तार, यह है वजह

पालघर भ्रष्टाचार निरोधक के पुलिस उपाधीक्षक नवनाथ जगताप और उनकी टीम ने महावितरण कार्यालय में जाल बिछाया दोनों को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

भ्रष्ट अधिकारियों पर भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते की कार्रवाई जारी है। पालघर बिजली विभाग की अधिकारी किरण नागवकर सहित दो अभियंताओं को एंटी करप्शन की टीम ने गिरफ्तार किया है।

ये भी पढ़ें- बीएसएफ जवान की पीट-पीटकर हत्या, जानें वजह

ग्राहक से मांगी थी रिश्वत
महावितरण विभाग के अधीक्षण अभियंता किरण नगावकर और कार्यकारी अभियंता प्रताप मचिये को पालघर भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते ने एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। महावितरण विभाग में एक ग्राहक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी। दोनों ने कार्रवाई न करने के एवज में दो लाख रुपए रिश्वत मांगी। लेकिन रकम बड़ी होने की बात कहकर समझौता कर डेढ़ लाख कर दिया गया। इसके बाद शिकायतकर्ता ने भ्रष्टाचार निरोधक विभाग की पालघर टीम से शिकायत की। इस शिकायत की जांच और सत्यापन के बाद पालघर भ्रष्टाचार निरोधक के पुलिस उपाधीक्षक नवनाथ जगताप और उनकी टीम ने महावितरण कार्यालय में जाल बिछाया। दोनों को समझौता राशि में से एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here