मुखिया प्रत्याशी सहित तीन लोगों ने लगाए थे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, अब भुगत रहे हैं ऐसी सजा

अपने ही देश की मिट्टी से गद्दारी करने वालों की कमी नहीं है। सोशल मीडिया से लेकर सामाजिक और राजनैतिक कार्यकर्मों में भी उनके पाकिस्तान प्रेम उजागर होते रहते हैं।

झारखंड की गिरिडीह पुलिस ने नामांकन जुलूस के दौरान पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने वाले गांडेय के मुखिया प्रत्याशी साकिर हुसैन और उसके दो समर्थकों आसिफ और सोहेब को गिरफ्तार कर लिया है।

तीनों आरोपितों को जेल भेजने की कार्रवाई जारी
नामांकन स्थल गांडेय अंचल कार्यालय में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी के आवेदन के आधार पर गांडेय थाना पुलिस ने पाकिस्तान समर्थन नारेबाजी के मुद्दे पर देश विरोधी एक्ट की धाराओं के तहत मुखिया प्रत्याशी साकिर हुसैन समेत तीनों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। 21 अप्रैल को इसकी पुष्टि थाना प्रभारी हसनैन ने करते हुए बताया कि तीनों आरोपितों को जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है।

ये भी पढ़ें – आरएफडीएल : केरल की लगातार दूसरी जीत, हैदराबाद की पहली जीत

नामांकन रद्द किए जाने की संभावना
बताया जाता है कि आरोपित मुखिया प्रत्याशी का नामांकन रद्द किए जाने को लेकर गिरिडीह प्रशासन ने राज्य निर्वाचन आयोग से परामर्श मांगा है। लिहाजा, राज्य निर्वाचन आयोग से निर्देश मिलते ही जिला प्रशासन कार्रवाई कर सकता है। जानकारी के अनुसार पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के आरोप में जिन तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, उसमें एक आरोपित आसिफ गांडेय के परमाडीह गांव का रहने वाला है, जबकि मुखिया प्रत्याशी साकिर हुसैन और दूसरा आरोपित सोहेब ढोकोडीह पंचायत के रहने वाले हैं।

इसी पंचायत से मुखिया प्रत्याशी ने 20 अप्रैल को नामांकन का पर्चा दाखिल किया था। उस वक्त नामांकन स्थल पर काफी भीड़ थी। इसी भीड़ के बीच आसिफ और सोहेब ने पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here