पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के कार्यक्रम में भगदड़, एक महिला की मौत

दंदरौआधाम में आठ नवंबर से चल रहे सियपिय मिलन समारोह में धार्मिक आयोजन चल रहे हैं।

मध्य प्रदेश के भिंड जिले के धार्मिक स्थल दंदरौआ धाम में आयोजित सियपिय मिलन समारोह के दौरान 15 नवंबर को हनुमान मंदिर से करीब 400 मीटर दूर लगी लाइन में भगदड़ मच गई। इसमें मुरैना निवासी एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई, जबकि तीन श्रद्धालु घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

भीड़ में गिर गई महिला
-दंदरौआधाम में आठ नवंबर से चल रहे सियपिय मिलन समारोह में धार्मिक आयोजन चल रहे हैं। 14 नवंबर से बागेश्वरधाम के महंत कथावाचक धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री हनुमत कथा शुरू हुई। 15 नवंबर को यहां कथा सुनने के लिए भारी भीड़ जमा हो गई। कथा में शामिल होने के लिए मुरैना के हाउसिंग बोर्ड कालोनी निवासी 55 वर्षीय कृष्णा देवी पत्नी मोहनलाल बंसल अपने बेटा श्रीराम बंसल और दामाद जितेश गर्ग के साथ आई थी। कृष्णा देवी दंदरौआधाम में जब डाक्टर हनुमान के दर्शन के लिए लाइन में लगी थी, तभी एकदम भीड़ का धक्का आया, जिससे वह जमीन पर गिर गईं। इस दौरान भीड़ में शामिल कई लोग उनके ऊपर से निकल गए। बेटे व दामाद ने किसी तरह पुलिस की मदद से उन्हें उठाया और इलाज के लिए अस्पताल लेकर आए, जहां डाक्टरों ने जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। परिजन बिना पीएम पोस्टमार्टम कराए ही उनका शव मुरैना ले गए।

-माना जाता है कि पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री लोगों की समस्या का समाधान पर्चे पर लिखकर अपने दरबार में बताते हैं। पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के तकरीबन हर कार्यक्रम में बड़ी संख्या में विशेषकर महिलाओं की मौजूदगी रहती है। मृतक महिला के बेटे ने बताया कि घटना के वक्त हम सभी लोग मंदिर के घंटे के पास खड़े थे। इसी समय पीछे से धक्का लगा और मां नीचे गिर गईं। भीड़ उन्हें कुचलती हुई निकल गई। जैसे-तैसे मां को भीड़ के बीच से निकाला। पुलिस वालों से मदद मांगी। हादसे के बाद कहीं पर भी मेडिकल सुविधा नहीं मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here