अमेरिका में खालिस्तानियों का आतंक, भिंडरावाले के भक्तों ने तीन को भूना

सिख फॉर जस्टिस अमेरिका के न्यूयॉर्क से संचालित होता है। इसके समर्थकों ने अपने गुरुद्वारे भी अलग कर रखे हैं। जिसमें भिंडरवाले की तस्वीर लगाई जाती है और भारत के विरुद्ध भड़काऊ दावे किये जाते हैं। अमेरिका में अब तक यह निर्बाधित होता रहा है, परंतु यह आतंकी आग अब अमेरिका को भी जलाने लगी है।

खालिस्तानियों ने अमेरिका में भी आतंक मचाना शुरू कर दिया है। कैनिफोर्निया के स्टॉकटन में गुरुद्वारा के सामने आतंकी सगठन सिख फॉर जस्टिस के लोग भारत के विरुद्ध कार्यक्रम कर रहे थे। इसी में गोलीबारी हो गई। जिसमें तीन लोग घायल हो गए।

गन कल्चर से परेशान अमेरिका में इस वर्ष अब तक 500 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। इस बीच खालिस्तान के नाम पर भारत के विभाजन की बांग देनेवाले सिख फॉर जस्टिस के लोगों ने भी आतंक मचाना शुरू कर दिया है। कैलिफोर्निया के स्टॉकटन में भिंडरावाले के नाम पर गुरुद्वारे में फावर लिफ्टिंग कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसी समय गुरपतवंत सिंह पन्नू के आतंकी संगठन ने गुरुद्वारे के बाहर ‘रेफेरेन्डम 2020’ (जनमत 2020) का कार्यक्रम आयोजित किया था। जिसमें सम्मिलित लोग आपस में ही गोलियां चलाने लगे। इस गोलीबारी में तीन लोग घायल हो गए।

भिंडरावाले के भक्त भिड़े
प्राप्त जानकारी के अनुसार खालिस्तान समर्थक जिन दो गुटों में गोलीबारी हुई है, उनमें सरबजीत सिंह उर्फ सबी सिंह और कनाडा के हरदीप सिंह निज्जर गुट के लोगों का समावेश है।

ये भी पढ़ें – मुस्लिम जमात राजी तभी बिराजेंगे गणपति जी! क्या हो रहा है हिंदुस्थान में?

भारतीय सुरक्षा एजेंसी एनआईए ने दिसंबर 2020 में 16 खालिस्तान समर्थकों के विरुद्ध अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रिवेन्शन) एक्ट 1967 (यूएपीए 1967) के अंतर्गत आरोप पत्र दाखिल किया था। ये सभी आतंकी सिख फॉर जस्टिस नामक संगठन से संबद्ध हैं। सिख फॉर जस्टिस नामक संगठन को भी अनलॉफुल असोशिएशन मानते हुए यूएपीए 1967 के अंतर्गत सूचीबद्ध किया था। 16 आतंकियों में सिख फॉर जस्टिस का मुखिया गुरपतवंत सिंह पन्नू, सरबजीत सिंह उर्फ सबी सिंह और हरदीप सिंह निज्जर का भी नाम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here