शीतल म्हात्रे मॉर्फ वीडियो प्रकरणः ‘इन’ दो लोगों पर कसा शिकंजा

शिवसेना प्रवक्ता शीतल म्हात्रे का ये मॉर्फ वीडियो 11 मार्च से वायरल हो रहा है। यह वीडियो मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की एक रैली का है।

शिवसेना प्रवक्ता शीतल म्हात्रे और विधायक प्रकाश सुर्वे के वीडियो को कथित रूप से मॉर्फ कर वायरल किया गया। इस मामले में शीतल म्हात्रे ने 11 मार्च की आधी रात को दहिसर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई। अब इस मामले में दहिसर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। दहिसर पुलिस फिलहाल इस बात की जांच कर रही है कि यह वायरल वीडियो किसने बनाया और किसने वायरल किया।

शिवसेना प्रवक्ता शीतल म्हात्रे का ये मॉर्फ वीडियो 11 मार्च से वायरल हो रहा है। यह वीडियो मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की एक रैली का है। उधर, दहिसर पुलिस ने इस मामले में छेड़खानी करने के साथ ही अन्य धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया है। शीतल म्हात्रे ने इस मॉर्फ वीडियो को लेकर ठाकरे ग्रुप पर शक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर यह आरोप लगाया है।

शीतल म्हात्रे ने लगाया आरोप
शीतल म्हात्रे ने ट्वीट कर कहा कि अगर राजनीति में महिलाओं पर आरोप लगाने से कुछ नहीं होता है, तो उनके चरित्र पर सवाल उठाकर उनका अपमान किया जाता है। यह ठाकरे गुट की नैतिकता है? उन्होंने पूछा है कि मातोश्री नाम के फेसबुक पेज से एक महिला के बारे में ऐसा मॉर्फ वीडियो अपलोड करते समय उद्धव बालासाहेब ठाकरे गुट को क्या  बालासाहेब के संस्कारों की याद नहीं आई? दहिसर पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान अशोक मिश्रा और मानस कुवर के रूप में हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here