जानें.. उद्धव सरकार का क्या है नया प्रताप?

अब किरीट सोमैया ने सरनाईक और उद्धव सरकार पर नये आरोप जड़े हैं। उनका दावा है कि ठाणे स्थित सरनाईक की दो इमारतों को अधिकृत करने की कोशिश की जा रही है।

शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक की टॉप ग्रुप मामले में वित्तीय लेनदेन में गड़बड़ी की जांच प्रवर्तन निदेशालय( ईडी) कर रही है। अब उनकी दो गैरकानूनी इमारतों को अधिकृत करने की कोशिश किए जाने के मामले का पर्दाफाश हुआ है।

भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व सांसद किरीट सोमैया इन दिनों हर दिन शिवसेना और पार्टी विधायक प्रताप सरनाईक के खिलाफ नये-नये खुलासे कर रहे हैं। इसके साथ ही सरनाईक और टॉप ग्रुप में वित्तीय लेनदेन के मामले में ईडी जांच कर रही है। अब किरीट सोमैया ने सरनाईक और उद्धव सरकार पर नये आरोप जड़े हैं। उनका दावा है कि ठाणे स्थित सरनाईक की दो इमारतों को अधिकृत करने की कोशिश की जा रही है।

ठाणे में स्थित हैं ये इमारत
प्रताप सरनाईक की ठाणे की विहंग गार्डन- बी1 और बी2 नामक दो नई इमारते हैं। ये दोनों 13 वर्ष पहले बनाई गई थीं। सोमैया का आरोप है कि ये दोनों इमारतें अनधिकृत हैं। उनका दावा है कि इन पर कानूनी कार्रवाई से बचाने के लिए उद्धव सरकार कोशिश कर रही है। सोमैया का आरोप है कि उद्धव सरकार इन इमारतों को अधिकृत करने का प्रयास कर रही है। सोमैया का कहना है कि पिछले महीने उन्होंने सरनाईक के इस घोटाले का पर्दाफाश किया था।

ये भी पढ़ेंः …और प्रताप सरनाईक के 112 भूखंड जब्त!

ठाणे मनपा ने मांगी थी मंजूरी
ठाणे महानगरपलिका ने 29 दिसंबर 2020 को ठाकरे सरकार से एक निवेदन किया था। उस निवेदन में कथित रुप से मनपा ने सरनाईक की इन दोनों इमारतों को अधिकृत करने की परमिशन मांगी थी। बता दें कि अभिनेत्री कंगना रनौत के कार्यालय पर 24 घंटे पहले नोटिस देकर मुंबई महानगरपालिका ने तोड़क कार्रवाई कर दी गई थी, वहीं अभिनेता सोनू सूद की इमारत के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। वहीं दूसरी ओर 13 वर्षों से कानूनी दांवपेच में फंसी प्रताप सरनाईक की इमारतों को अधिकृत करने की कोशिश को सौमैया ने गंभीर मामला बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here