यौन शोषण मामला: प्रिंसिपल एमके सिन्हा गिरफ्तार, जानें, क्या है आरोप

थाना प्रभारी विनोद कुमार ने आरोपित प्रिंसिपल की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए 29 मई की रात को बताया कि एमके सिन्हा की गिरफ्तारी जमशेदपुर के टेल्को कॉलोनी से हुई है।

डीएवी कपिलदेव स्कूल के प्रिंसिपल मनोज कुमार सिन्हा को रांची की अरगोड़ा थाना पुलिस ने पूर्वी सिंहभूम (जमशेदपुर) के टेल्को कॉलोनी से गिरफ्तार किया है। उन पर यौन शोषण का आरोप है। उन्हें स्कूल प्रबंधन ने निलंबित भी कर दिया है।

जानकारी के अनुसार एमके सिन्हा अपने संबंधी चुमन सिंह के दोस्त राकेश पांडे के घर में छिपे हुए थे। पुलिस की विशेष टीम ने उन्हें गिरफ्तार किया है।

ये भी पढ़ें – रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मृत्यु? ब्रिटेन ने किया यह दावा

थाना प्रभारी विनोद कुमार ने आरोपित प्रिंसिपल की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए 29 मई की रात को बताया कि एमके सिन्हा की गिरफ्तारी जमशेदपुर के टेल्को कॉलोनी से हुई है। पुलिस टीम आरोपित को लेकर रवाना हो चुकी है।

वीडियो वायरल होने पर हुआ था बवाल
उल्लेखनीय है कि मनोज कुमार सिन्हा के खिलाफ कार्यस्थल पर यौन शोषण करने का प्रयास करने के मामले में स्कूल की ही एक महिला कर्मी ने अरगोड़ा थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी थी। महिला का पुलिस ने कोर्ट में बयान भी दर्ज कराया गया था। इसके बाद प्रिंसिपल का वीडियो भी वायरल हुआ था। मामले में पुलिस आरोपित प्रिंसिपल की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी कर रही थी।

प्रिसिंपल को कर दिया गया था निलंबित
डीएवी प्रबंध समिति ने भी प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया था। विद्यालय के ही पीड़ित कर्मी के साथ अश्लील बातों का ऑडियो और वीडियो वायरल होने के बाद स्कूल प्रबंधन की ओर से यह कार्रवाई की गयी थी। मामले को लेकर भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने डीएवी कपिलदेव स्कूल का बीते 27 मई को घेराव भी किया था। कार्यकर्ताओं ने आरोपित मनोज कुमार सिन्हा की गिरफ्तारी की मांग की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here