अमेरिका के इस कदम से रूस आग बबूला, दो महाशक्तियों में बढ़ेगा सीधा टकराव

रूस के हमले में यूक्रेन के खारकीव स्थित बीज बैंक को खतरा पैदा हो गया है।बीज बैंक के भूमिगत तहखाने की तिजोरियों में लगभग दो हजार फसलों के लिए जेनेटिक कोड को सुरक्षित रखा गया है।

अमेरिका के यूक्रेन को उन्नत राकेट सिस्टम और आधुनिक युद्ध सामग्री की आपूर्ति करने पर रूस ने 1 जून को कड़ा ऐतराज जताते हुए अमेरिकी फैसले की आलोचना की है। रूस के इस रुख से दोनों महाशक्तियों के बीच सीधे टकराव की आशंका बढ़ गई है। रूसी उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव का कहना है कि यूक्रेन को अमेरिकी सैन्य सहायता ने स्थितियों को और खराब कर दिया है।

अमेरिका का कहना है कि वह यूक्रेन को लंबी दूरी तक मार करने वाले हथियार हाई मोबिलिटी आर्टिलरी राकेट सिस्टम देने जा रहा है। हिमार्स एक मल्टीपल राकेट लान्चर है, जो लंबी दूरी के लक्ष्यों पर सटीक निशाना लगा सकता है।

अमेरिका ने कहा कि वह इस प्रणाली को 700 मिलियन डालर के सैन्य सहायता पैकेज में शामिल करेगा। हालांकि पहले अमेरिका इन हथियारों को यूक्रेन को देने से इनकार कर चुका था। लेकिन यूक्रेन के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से यह भरोसा दिए जाने पर अमेरिका राजी हो गया है।

क्रेमलिन के प्रवक्ता ने 1 जून को कहा कि अमेरिका मामले को भड़काने का काम कर रहा है। अमेरिका के साथ यूरोपीय देशों ने भी यूक्रेन की रक्षा को मजबूत करने के लिए अत्याधुनिक हथियारों की आपूर्ति करने का भरोसा दिया है।

रूस के हमले में यूक्रेन के खारकीव स्थित बीज बैंक को खतरा पैदा हो गया है। बीज बैंक के भूमिगत तहखाने की तिजोरियों में लगभग दो हजार फसलों के लिए जेनेटिक कोड को सुरक्षित रखा गया है। संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन द्वारा स्थापित गैर लाभकारी संगठन क्राप ट्रस्ट ने यह जानकारी दी है। ट्रस्ट का दफ्तर भी खारकीव शहर में ही है और रूसी बमबारी से उसके लिए भी खतरा पैदा हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here