ईएमआई में बदलाव नहीं, कोविड 19 की लहर से विकास प्रभावित… जानें मौद्रिक नीति की प्रमुख बातें

वित्त वर्ष 2021-22 के प्रथम मौद्रिक नीति की घोषणा हो गई है।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति (क्रेडिट पॉलिसी) की घोषणा की। इसमें उन्होंने ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया है। इसके अलावा 2021-22 की पहली मौद्रिक समीक्षा में आर्थिक वृद्धि (जीडीपी) के लक्ष्य को 10.5 प्रतिशत पर रखा है। गवर्नर के संबोधन के प्रमुख मुद्दे इस प्रकार रहे।

  • कोविड 19 कके प्रसार बाद भी अर्थव्यवस्था में सुधार
  • घरेलू विकास हुआ प्रभावित
  • बाजार में बढ़ी अनिश्चितता की स्थिति
  • फरवरी में खुदरा महंगाई दर 5 प्रतिशत
  • रिवर्स रेपो रेट को 3.35 प्रतिशत पर ही रखा
  • बैंक रेट भी 4.25 प्रतिशत पर यथावत
    रेपो रेट – यह वह दर है जिस पर रिजर्व बैंक से बैंकों को ऋण मिलता है
    रिवर्स रेपो रेट – वह दर है जिस दर पर रिजर्व बैंक देश के अन्य बैंकों की जमा राशि पर भुगतान करता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here