जोधपुर में फिर बढ़ी टेंशन, तेजी से सुधरती स्थिति के बीच अब हो गया ऐसा!

दो मई की रात भड़के उपद्रव के तुरंत बाद इटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। वहीं अगले दिन 3 मई को 10 पुलिस थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लागू किया गया था।

जोधपुर शहर में स्थिति तेजी से सुधर रही थी, इस बीच एक घटना ने फिर से टेंशन बढ़ा दी है। यहां एक युवक को चाकू मार देने के बाद तनाव बढ़ता दिख रहा है। हालांकि आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि ये घटना निजी रंजिश के चलते घटी है।

 शहर में 2 मई को जालोरी गेट सर्किल पर उपजे दो गुटों के झगड़े के बाद जिले में इंटरनेट सेवा को निलंबित कर दिया गया था। 8 मई की शाम चार बजे मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल होते ही जिले भर के लोगों में खुशी की लहर छा गई और एक दूसरे को बधाइयां तक देने लगे। इधर 8 मई को ही 10 थाना क्षेत्रों में दी कर्फ्यू में आठ घंटे की छूट पर शहर के लोगों ने राहत महसूस करने के साथ जल्द हालात पूरी तरह सामान्य होने की उम्मीद लगा दी है। 9 मई को सुबह सात से शाम बजे तक कर्फ्यूग्रस्त 10 थाना क्षेत्रों में सभी प्रतिष्ठान खोलने के आदेश भी जारी कर दिए गए है। वैसे कर्फ्यू दो दिन के लिए बढ़ा दिया गया है। जो कि 10 मई की सुबह 7 बजे तक जारी रहेगा।

शहर में 8 मई को लोगों ने राहत की सांस ली है। इस दिन 8 घंटे कर्फ्यू में ढील के साथ ही इंटनेट सेवा भी बहाल कर दी गई। 130 घंटे बाद जोधपुर में इंटरनेट सेवा बहाल हुई। जोधपुर में 2 मई की रात भड़के उपद्रव के बाद से इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। करीब सवा चार बजे इंटरनेट सेवा बहाल होते ही लोगों ने एक-दूसरे को इसके फिर से शुरू होने की सूचना दी। देखते ही देखते सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर यह मैसेज तेजी से शेयर किया गया। बाद में जिला कलेक्टर की तरफ से इंटरनेट सेवा बहाल करने का आदेश भी जारी किया गया।

दो मई को बंद की गई थी मोबाइल इंटरनेट सेवा:
2 मई की रात भड़के उपद्रव के तुरंत बाद इटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। वहीं अगले दिन 3 मई को दस पुलिस थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लागू किया गया था। कर्फ्यू में तीन दिन से दी जा रही छूट के दौरान पूर्णतय शांति बनी रहने के बाद प्रशासन ने इंटरनेट सेवा शुरू करने का फैसला किया। छह दिन से इंटरनेट सेवा बंद रहने से लोग बहुत परेशान हो चुके थे। लोग थोड़ी-थोड़ी देर में रोजाना अपना फोन चैक करते रहते ताकि इंटरनेट सेवा शुरू होने का पता चल सके।

लोगों में छाई खुशी की लहर, पुलिस के लिए चुनौती :
8 मई की दोपहर बाद अचानक इंटरनेट शुरू होते ही लोगों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। देखते ही देखते यह मैसेज शेयर किया जाने लगा। लोग अपने-अपने मोबाइल लेकर उसमें व्यस्त हो गए। इंटरनेट सेवा बहाल होने के साथ ही पुलिस की जिम्मेदारी बढ़ गई है कि भड़काऊ मैसेज पर नजर रखी जाए।

आठ घंटे की कफ्र्यू में मिली छूट :
शहर के दस कर्फ्यू प्रभावित दस थाना क्षेत्र में रविवार को दी गई आठ घंटे की छूट के दौरान अच्छी चहल-पहल देखने को मिली। अधिकांश क्षेत्रों में शांति बनी हुई है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है। घरों में कैद लोग आज मिली छूट के दौरान खुलकर बाहर निकले और अपने आवश्यक कार्यों को निपटाने में व्यस्त रहे।

उपद्रव के बाद लगाया था कफ्र्यू:
शहर में दो मई की रात जालोरी गेट क्षेत्र में हुए उपद्रव के बाद दस थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लागू किया गया था। इस कर्फ्यू में दो दिन पूर्व दो और 7 मई को चार घंटे की छूट प्रदान की गई थी। दोनों दिन शांति बनी रहने के बाद रविवार को कर्फ्यू में आठ घंटे की छूट प्रदान की गई। रविवार की सुबह नौ बजे से आठ घंटे की छूट का समय शुरू होते ही सभी क्षेत्र में सडक़ें एक बार फिर लोग व वाहनों से गुलजार हो उठी।

लोग घरों से निक ले बाहर, चहलकदमी बढ़ी:
बड़ी संख्या में लोग घरों से बाहर निकले और आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी की। वहीं कई लोग शहर के अन्य हिस्सों में रहने वाले अपने रिश्तेदारों के हालचाल जानने को भी पहुंचे। छूट के दौरान वाहनों की भीड़ बढऩे के कारण कुछेक स्थान पर पुलिस ने वाहनों को रोक पूछताछ भी की। हालांकि किसी को रोका नहीं गया। मुख्य चौराहों के अलावा गली-मोहल्लों में भी आम दिन के समान लोगों की हलचल नजर आई।

प्रशासन रखा हालात पर नजर:
कफ्र्यू में दी गई छूट के दौरान जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता व पुलिस कमिश्नर नवज्योति गोगोई सहित सभी आला अधिकारी पूरी मुस्तैदी के साथ स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। वहीं अधिकांश पुलिस अधिकारी फील्ड में अपनी ड्यूटी देते नजर आए। रविवार को छूट के समय शांति बनी रहने से उम्मीद से एक-दो दिन में दिन का कर्फ्यू पूरी तरह से उठा लिया जाएगा। फिलहाल जिला प्रशासन दिन का कर्फ्यू हटाने पर विचार कर रहा है। ताकि लोगों को परेशानी ना हो। वहीं रात का कर्फ्यू अगले कुछ दिन तक जारी रह सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here