क्या हनीप्रीत को मिलेगी डेरा की कमान? जानिये, रामरहीम ने अनुयायियों को दिया क्या संदेश

20 साल की सजा काट रहे डेरा प्रमुख रामरहीम ने सुनारियां जेल से एक बार फिर अपने अनुयायियों के नाम पत्र लिखा है।

साध्वी यौन शोषण मामले में 20 साल की सजा काट रहे डेरा प्रमुख रामरहीम ने सुनारियां जेल से एक बार फिर अपने अनुयायियों के नाम पत्र लिखा है। रामरहीम ने लिखा है कि परमपिता परमात्मा ने हमें आपका गुरु बनाया था और हम गुरु हैं और हम ही गुरु रहेंगे। किसी के बहकावे में मत आया करो, वचन सिर्फ और सिर्फ गुरु के होते हैं, बाकी सब तो सिर्फ बातें हैं।

अनुयायियों को लिखे पत्र में है क्या?
सुनारियां की जेल से 28 अप्रैल को रामरहीम का एक पत्र सामने आया है। यह पत्र रामरहीम ने अपने अनुयायियों के नाम लिखा है। उन्होंने लिखा है कि गुरु वचन को सतगुरु हुक्म देकर करवाते हैं, ना कि गुरु किसी बंदे के कहने पर करते हैं। रामरहीम ने साफ लिखा है कि किसी के बहकावे में आने की जरूरत नहीं है, हम ही गुरु रहेंगे। राम रहीम ने अनुयायियों को 74वें स्थापना दिवस की भी शुभकामनाएं भी दीं और कहा कि डेरे में जाकर सेवा करते हैं, उनकी हर जायज मांग को सतगुरु पूरा करेंगे।

सोशल मीडिया पर थी ऐसी चर्चा
दरअसल, सोशल मीडिया पर चल रहा था कि कुछ दिनों में हनीप्रीत को डेरे की कमान सौंपी जाएगी। लेकिन राम रहीम की इस चिट्ठी से सोशल मीडिया पर चल रहे प्रचार पर विराम लग गया। इससे पहले भी कई बार रामरहीम जेल से अनुययियों को पत्र लिख चुके हैं। पंजाब में बेअदबी मामले में रामरहीम ने पत्र लिखकर सफाई दी थी कि वे सभी धर्मों के मामने वाले हैं और बेअदबी के बारे में सोच भी नहीं सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here