सिद्धू मुसेवाला प्रकरण में पंजाब पुलिस को मिली सफलता

पंजाब पुलिस ने फतेहाबाद जिले के गांव भिरड़ाना से दो युवकों पवन और नसीब को गिरफ्तार कर चुकी है।

पंजाब के गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्यारों की तलाश में पंजाब के मोगा से आई पुलिस टीम ने 5 जून रात सीआईए फतेहाबाद की टीम के साथ फतेहाबाद जिले के गांव मुसेअली में दबिश दी। पंजाब पुलिस ने यहां से युवक देवेन्द्र उर्फ काला को हिरासत में लिया। मोगा पुलिस उसे अपने साथ मोगा ले गई है। मूसेवाला की हत्या 29 मई को की गई थी।

पवन और नसीब को किया गिरफ्तार
इससे पहले पंजाब पुलिस फतेहाबाद जिले के गांव भिरड़ाना से दो युवकों पवन और नसीब को गिरफ्तार कर चुकी है। आरोप है कि देवेन्द्र उर्फ काला ने पंजाब के रहने वाले दो व्यक्तियों केशव और चरणजीत सिंह को 16 और 17 मई को अपने घर पर ठहराया था। ये दोनों मूसेवाला की हत्या में शामिल बताए जा रहे हैं। देवेंद्र उर्फ काला पर फतेहाबाद में एनडीपीएस एक्ट में 6 के मामले और पंजाब में 2 किलोग्राम अफीम रखने का मामला दर्ज है।

ये भी पढ़ें – विधायक को‌ राष्ट्रपति का मंत्र, ऐसे करें काम

उल्लेखनीय है कि मूसेवाली की हत्या में प्रयुक्त बोलेरो गाड़ी 25 मई को फतेहाबाद में रतिया चुंगी से होते हुए हांसपुर के रास्ते पंजाब जाते दिखाई दी थी। भिरड़ाना से काबू किए गए पवन का नौकर नसीब बोलेरो को राजस्थान के रावतसर से फतेहाबाद लाया था। रतिया पुल के पास उसने यह गाड़ी चरणजीत सिंह और केशव को सौंपी थी। सोनीपत के कुख्यात बदमाश प्रियव्रत फौजी और उसका साथी अंकित जाटी भी उनके साथ गाड़ी में थे। यह लोग 25 मई को पंजाब रवाना हुए थे और फतेहाबाद के गांव बीसला स्थित पेट्रोल पम्प पर गाड़ी में तेल डलवाते हुए इनकी फोटो सीसीटीवी में कैद हो गई थी। हत्यारोपियों को चरणजीत बोलेरो में लेकर मानसा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here