8 लाख के इनामी नक्सली के साथ पुलिस ने किया ऐसा!

एमपी के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि पुलिस और नक्सलियों के बीच बिरसा पुलिस थाना क्षेत्र में मुठभेड़ हो गई।

मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में एक मुठभेड़ के दौरान एक कुख्यात नक्सली को गिरफ्तार किया गया है। संदीप कुंजाम उर्फ लक्खुू नामक इस 25 वर्षीय नक्सली की तलाश छत्तीसगढ़ की पुलिस काफी दिनों से कर रही थी।

इस बारे में जानकारी देते हुए एमपी के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि बालाघाट जिले में 10 अगस्त को एक मुठभेड़ में पुलिस ने एक कुख्यात नक्सली को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। उन्होंने बताया कि संदीप कुंजाम उर्फ लक्खू नामक इस नक्सवादी के सिर पर 8 लाख रुपए का इनाम रखा गया था। इसमें से 5 लाख की घोषणा छत्तीसगढ़ ने जबकि 3 लाख इनाम की घोषणा मध्य प्रदेश सरकार ने की थी।

नक्सलियों के छिपे होने की मिली थी जानकारी
गृह मंत्री ने बताया कि पुलिस और नक्सलियों के बीच बिरसा पुलिस थाना क्षेत्र में मुठभेड़ हो गई। इस दौरान वह जिंदा धर दबोचा गया। उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में नक्सलियों के खात्मे के लिए ऑपरेशन ऑल चलाया है। पुलिस इस अभियान को सफलतापूर्वक अंजाम दे रही है। बालाघाट पुलिस के अनुसार कुंजाम खातिया मोछा एरिया दालाम का सदस्य है। जैरासी गांव में 20 नक्सलियों के छिपे होने की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और गांव को घेर लिया।

ये भी पढ़ेंः ब्रिटिश काल के कानून देश के लिए क्यों हैं खतरनाक? जानिये, अधिवक्ता अंकुर शर्मा की राय

 ..और दबोचा लिया गया इनामी नक्सली
पुलिस से घिरे पाकर नक्सलियों ने पुलिस दल पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की और इस दौरान इनामी नक्सली संदीप कुंजाम दबोच लिया गया। बाकी सभी नक्सली भागने में सफल हो गए। संदीप के खिलाफ 18 एमपी और 4 छत्तीसगढ़ में लंबित हैं। महाराष्ट्र में उसकी गतिविधियों के बारे में जानकारी प्राप्त की जा रही है। वह कुंजाम छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के बेंगुर पुलिस थाने के कुआकोंडा गांव का रहिवासी था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here