महाराष्ट्र के इस शहर में जाली नोट बनाने के कारखाने का पर्दाफाश, तीन आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे

पुलिस को सूचना मिली थी कि महागांव के पांच रास्ता चौक पर दो लोग जाली नोट चलाने के लिए आ रहे हैं।

कोल्हापुर जिले की गढ़लिंग तहसील के महागांव में पुलिस ने छापा मारकर जाली नोट बनाने के कारखाने का भंडाफोड़ करके तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने 500, 200 और 100 रुपये के जाली नोट सहित प्रिंटर, स्याही आदि सामान भी बरामद किया है।

दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि महागांव के पांच रास्ता चौक पर दो लोग जाली नोट खपाने के लिए आ रहे हैं। इस पर उपनिरीक्षक विक्रम वडाने के नेतृत्व में छह पुलिसकर्मियों की टीम ने दो गुटों में बंटकर शनिवार को देर रात जाल बिछाया था। इस बीच एक व्यक्ति बाइक पर गडलिंगम से आया और चौक में इंतजार कर रहे दो लोगों की ओर गया। पुलिस टीम ने शक के आधार पर तीनों लोगों को पकड़ लिया। तलाशी लेने पर उनके पास से जाली नोट मिले। पुलिस ने इनके पास से मोटरसाइकिल भी जब्त कर ली है।

यह भी पढ़ें – मुंबईः अस्पताल में तीन घंटे लिफ्ट में फंसे रहे मरीज, सामने आई प्रबंधन की बड़ी लापरवाही

पुलिस कर रही है पूछताछ
पुलिस के मुताबिक पकड़े गए लोगों में अब्दुल रजाक अब्बासाहेब मकरंदर (25), अनिकेत शंकर हुले (20), संजय आनंद वाडेर (35) हैं, जिनसे गहन पूछताछ कर रही है। पुलिस को इन लोगों ने चिक्कोडी के एक मकान में जाली नोट बनाने का कारखाना चलने की जानकारी दी। पुलिस को उस मकान की तलाशी में जाली नोट बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला प्रिंटर और स्याही मिला। इस मामले की गहन छानबीन की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here