ज्ञानवापी मस्जिद मामले में दाखिल मुकदमा होगा वापस? विश्व वैदिक सनातन संघ प्रमुख ने कही ये बात

ज्ञानवापी मामले में 9 मई को वादी महिलाओं ने एकजुटता दिखाई। दिल्ली की राखी सिंह मुकदमे से अपना नाम वापस नहीं ले रही हैं।

विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने 9 मई को कहा कि ज्ञानवापी मस्जिद मामले में दाखिल मुकदमा वापस नहीं ले रहे हैं। देश विरोधी ताकतें संगठन को बदनाम करने के लिए अफवाह फैला रही है।

कचहरी परिसर में 9 मई को पत्रकारों से बातचीत के दौरान जितेन्द्र सिंह बिसेन ने बताया कि सनातन संघ अन्य पांच मुकदमे श्रीकाशी विश्वनाथ से जुड़े और एक लाट भैरव से जुड़े मुकदमे से याचिका वापस ले रहा है। इसमें अगले एक हफ्ते के अंदर नयी याचिका संगठन की यूथ विंग हिन्दू राष्ट्र पुनर्स्थापना संघ की तरफ से न्यायालय में दाखिल होगी। बिसेन ने वादी राखी सिंह का नाम याचिका वापसी के लिए आने पर अधिवक्ता सुधीर त्रिपाठी को तत्काल प्रभाव से सभी मुकदमों से निलंबित करने की बात कही।

ये भी पढ़ें – अमित शाह ने मां कामाख्या मंदिर में की पूजा, मांगा ये आशीर्वाद

अपने विरुद्ध षड्यंत्र रचने का आरोप 
ज्ञानवापी मामले में वादी राखी सिंह के मुकदमा से नाम वापसी से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि गलत सूचना है और मेरा, राखी सिंह का या मेरे वकील का ऐसा कोई बयान नहीं है। कुछ लोगों ने अपनी तरफ से ऐसा किया है। राखी सिंह का नाम लेकर इसलिए किया है कि देश विरोधी शक्तियां मेरे विरुद्ध षड्यंत्र रच रहीं हैं। अलग-अलग बयान लेकर तोड़-मरोड़ के उसे प्रस्तुत किया गया। उन्होंने साफ किया कि राखी सिंह बनाम उत्तर प्रदेश सरकार का मुकदमा वापस नहीं हो रहा है। अन्य 6 मुकदमों में से एक मुकदमा जो मुकदमा नंबर 350 है, जिसमें मैं खुद आदि विश्वेशर स्वयंभू ज्योतिर्लिंग विश्वेश्वर की तरफ से वादी हूं, उसे वापस ले लिया हूं। उसके लिए नया मुकदमा दाखिल करूंगा। विश्व वैदिक सनातन संघ की यूथ विंग हिन्दू राष्ट्र पुनर्स्थापना संघ की तरफ से नई याचिका अदालत में दाखिल होगी।

मुकदमे की कार्यवाही जारी रहेगी
उल्लेखनीय है कि ज्ञानवापी मामले में दिल्ली निवासी वादी राखी सिंह के चाचा व विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने बताया था कि राखी सिंह मुकदमें से अपना नाम वापस लेगी। मुकदमें में पैरोकार बिसेन के इस बयान के बाद सोशल मीडिया में लोग भी नाराजगी दिखाते रहे। इस मुकदमें की चार अन्य वादी महिलाएं लक्ष्मी देवी, मंजू व्यास, सीता साहू, रेखा पाठक ने एकजुटता दिखा कहा था कि मरते दम तक लड़ती रहेगी। वहीं वादी के अधिवक्ता व सर्वोच्च नयायालय के वकील हरिशंकर जैन ने भी कहा कि राखी सिंह के हटने से मुकदमे पर कोई असर नहीं पड़ेगा। मुकदमे की कार्यवाही जारी रहेगी।

ज्ञानवापी मामले में वादी राखी सिंह मुकदमा वापस नहीं लेंगी, लड़ेंगी
ज्ञानवापी मामले में 9 मई को वादी महिलाओं ने एकजुटता दिखाई। दिल्ली की राखी सिंह मुकदमे से अपना नाम वापस नहीं ले रही हैं। राखी सिंह मुकदमा लड़ेंगी।9 मई को वादी राखी सिंह के अधिवक्ता शिवम गौड़ ने कचहरी में ये जानकारी दी। अधिवक्ता ने कहा कि केस जैसे चल रहा है, वैसे ही चलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here