इस्लामी चरमपंथियों का आतंक! राष्ट्रपति बोले, “सिर्फ ही राक्षस ही ऐसा करते हैं”

इस्लामी चरमपंथियों के आतंक से नाइजीरिया बुरी तरह से प्रभावित है।

दक्षिण पश्चिम नाइजीरिया में हथियारबंद हमलावरों ने रविवार को एक कैथोलिक गिरजाघर में एकत्र लोगों पर अंधाधुध फायरिंग और विस्फोट किए। इस हमले में 50 से भी अधिक लोगों के मारे जाने की आशंका है। मरने वालों में बच्चे और महिलाएं भी शामिल हैं।

जन प्रतिनिधि ओगुनमोलासुई ओलुवोले ने बताया कि हमलावरों ने ऑन्दो राज्य के सेंट फ्रांसिस कैथोलिक गिरजाघर को निशाना बनाया और यह हमला तब किया गया जब श्रद्धालु ईसाई धर्म के त्योहार पेंटेकोस्ट संडे के मौके पर वहां जमा हुए थे। हमलावरों ने प्रार्थना के लिए आए लोगों पर स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध फायरिंग की और हथगोले फेंके।

ये भी पढ़ें – प्रधानमंत्री ने मिट्टी बचाओ आंदोलन को किया संबोधित, पेट्रोल में इथेनॉल मिश्रण को लेकर कही ये बात!

ओलुवोले ने अनुसार इस हमले में बच्चों समेत 50 से अधिक लोगों के मारे जाने की आशंका जताई है। हमले में दर्जनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ओलुवोले ने बताया कि उन्होंने घटनास्थल और अस्पताल का दौरा किया है, जहां घायलों का इलाज चल रहा है। नाइजीरियाई संसद के निचले सदन के सदस्य टिमिलीन ने कहा कि कम से कम 50 लोग मारे गए हैं।

इस हमले को लेकर नाइजीरिया के राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ने कहा है कि केवल राक्षस ही ऐसा जघन्य अपराध कर सकते हैं। घृणा और हिंसा से हमारी भावनाएं नहीं बदली जा सकती हैं। हम अपने प्रेम और भाईचारे से राक्षसों को पराजित करेंगे।

उल्लेखनीय है कि नाइजीरिया का एक बड़ा हिस्सा इस्लामी चरमपंथ का सामना कर रहा है, जबकि ऑन्दो को नाइजीरिया का सबसे शांत राज्य माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here