जानिये, समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर के सीएम उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में क्या है !

एनसीबी के संभागीय निदेशक समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर अपने पति और परिवार पर हर दिन किए जा रहे हमले से परेशान हैं। उन्होंने अपनी परेशानी बताने के लिए और न्याय की मांग को लेकर सीएम को चिट्ठी लिखी है।

एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े इस समय आर्यन खान ड्रग्स मामले को लेकर विवादों में घिरे हुए हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने समीर और उनके परिवार पर कई तरह के आरोप लगाए हैं। इन गंभीर आरोपों का उनकी पत्नी और मराठी अभिनेत्री क्रांति रेडकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जवाब दिया था। अब क्रांति ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा है। सीएम उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में क्रांति ने अनुरोध किया है, “एक मराठी व्यक्ति के रूप में, आज मैं आपसे न्याय की उम्मीद करती हूं, आप न्याय करेंगे।”

क्रांति रेडकर का पूरा पत्र
माननीय उद्धव ठाकरे,
“मैं एक मराठी लड़की हूं, जो बचपन से ही शिवसेना को मराठी लोगों के न्यायसंगत अधिकारों के लिए लड़ते हुए देखकर बड़ी हुई है। मैं छत्रपति शिवाजी महाराज और हिंदू हृदय सम्राट बालासाहब ठाकरे के विचारों का अनुसरण करते हुए बड़ी हुई हूं। दोनों ने हमें सिखाया है कि किसी के साथ अन्याय नहीं करना है और अन्याय को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करना है। वही सबक सीखकर, आज मैं उन लोगों के खिलाफ अकेली खड़ी हूं, जो मेरे निजी जीवन पर हमला कर रहे हैं। मैं लड़ रही हूं।”

“मैं एक कलाकार हूं। मुझे राजनीति समझ में नहीं आती… और मैं इसमें उतरना भी नहीं चाहती। इन दिनों हर सुबह  हमारी इज्जत तार-तार की जा रही है। शिवाजी महाराज के राज्य में एक महिला को मजाक बनाकर रख दिया गया है। अगर बालासाहब आज जिंदा होते तो वे ऐसा कभी बर्दाश्त नहीं करते। आज वो नहीं हैं लेकिन आप में हम उनकी छाया देखते हैं।”

“आप हमारा नेतृत्व कर रहे हैं और मुझे आप पर पूरा विश्वास है। मुझे यकीन है कि आप मेरे और मेरे परिवार के साथ कभी भी अन्याय नहीं होने देंगे। एक मराठी व्यक्ति के रूप में, मैं आपसे न्याय की आशा करती हूं।”

ये भी पढ़ेंः बड़ी कार्रवाई! विवादास्पद एनसीबी गवाह किरण गोसावी एक अन्य मामले में गिरफ्तार

यह है मामला
अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को ड्रग मामले में गिरफ्तार किया गया है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के संभागीय निदेशक समीर वानखेड़े रिश्वत के आरोपों को लेकर विवादों में घिर गए हैं। वानखेड़े ने 27 अक्टूबर को दिल्ली में एनसीबी मुख्यालय में उप महानिदेशक के समक्ष अपना पक्ष रखा है। हालांकि, वानखेड़े की कथित रिश्वतखोरी की जांच की जा रही है। उधर, अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक समीर वानखेड़े के परिवार पर हर दिन नए-नए आरोप लगा रहे हैं। इस मामले में क्रांति ने प्रेस कांफ्रेंस की थी और ट्विटर पर लगाए जा रहे आरोपों और पोस्ट पर आपत्ति जताई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here