नशे की गुड़िया, करोड़ो की पुड़िया… मायानगरी में ऐसा था मादक खेल

मुंबई में दो नशे की गुड़िया पुलिस की नाक के नीचे अपना व्यापार चला रही थी। इसमें शिष्य बांद्रा से थी तो गुरु माहिम के अड्डे से पुलिस निगरानी का धुवां उड़ा रही थी। अब नार्कोटिक कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने उसे गिरफ्तार किया है, इस व्यवसाय से उसने करोड़ो रुपए का बैंक बैलेंस और संपत्तियां खड़ी की हैं।

मादक पदार्थों पर कार्रवाइयों की झड़ी लगी हुए है फिर भी तस्कर सक्रिय हैं। एनसीबी ने बड़ी कार्रवाई में रुबीना शेख नामक महिला को गिरफ्तार किया है, जिसे कुछ लोग नशे की गुड़िया तो मादक पदार्थों के विक्रेता डॉन मानते थे। एनसीबी की पूछताछ में सामने आया है कि रुबीना ने 12 करोड़ रुपए की संपत्ति खड़ी कर ली है।

ये भी पढ़ें – प्रधानमंत्री से मिले पंजाब के मुख्यमंत्री… जानें वे तीन मुद्दे जिन पर हुई बात

झुग्गी वाली के पास 70 लाख की नकदी
रुबीना को एनसीबी लंबे समय से ढूंढ रही थी। उसे ट्रैक करने के बाद गुजरात के उंझा से पकड़ा गया है। उसके पास से एमडी ड्रग्स, 70 लाख की नकदी, 30 लाख रुपए के सोने के आभूषण मिले हैं।
रुबीना के पास कुर्ला में 50 लाख रुपए का घर, मालेगाव में 3 करोड़ रुपए का बंगला, मुंब्रा में 40 लाख रुपए मूल्य का फ्लैट, माहिम काजवे में चाल में तीन रूम इसके अलावा मीरा रोड में भी बड़ी संपत्ति है। रुबीना ने अपने काले धंधे का पैसा संपत्तियों मे लगा रखा था।

ड्रग पैडलर्स का गिरोह
रुबीना 40 ड्रग पैडलर्स का गिरोह संचालित करती थी। ये गिरोह शहर के कुर्ला कसाईवाडा, माहिम काजवे, भिवंडी, मुंब्रा, बांद्रा आदि क्षेत्रों में नशे का व्यापार करता था।

रुबीना की गुरु भी फरार
निलोफर सांडोले नामक माहिम में रहनेवाली महिला को रुबीना का बॉस माना जाता है। उसी के साथ रुबीना ने अपराध की दुनिया में कदम रखा था। दोनों मिलकर चोरी करती थीं। इसके बाद दोनों को नशे के व्यवसाय का पता चला और दोनों इस व्यवसाय की डॉन बन गईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here