मस्जिदों पर लाउडस्पीकर को लेकर राज ठाकरे के अल्टीमेटम के बाद मुंबई के मुसलमान बेचैन, पुलिस कमिश्नर से की यह मांग

मुंबई पुलिस कमिश्नर संजय पांडे से ऑल इंडिया सुन्नी जमीयत उलेमा मुंबई प्रदेश के अध्यक्ष सैयद मोइनउद्दीन अशरफ (मोइन मियां) और रजा एकेदमी के चेयरमैन आल्हाज सईद नूरी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की और ज्ञापन सौंपा।

मुंबई में मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे के मस्जिदों के बाहर अजान के वक्त हनुमान चालीसा का पाठ करने की घोषणा पर मुस्लिम नेताओं नेताओं चिंता जताई है। इस बीच सोमवार को ऑल इंडिया सुन्नी जमीयत उलेमा मुंबई के प्रतिनिधिमंडल ने मुंबई के पुलिस कमिश्नर संजय पांडे को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में पुलिस से मस्जिदों में लाउडस्पीकर से अजान दिए जाने को जारी रखने और इसके लिए सुरक्षा दिए जाने की मांग की गई है।

दरअसल हजरत मौलाना मोहम्मद अशरफ मुसन्ना मियां के उर्स में शिरकत करने पहुंचे पुलिस कमिश्नर संजय पांडे से ऑल इंडिया सुन्नी जमीयत उलेमा मुंबई प्रदेश के अध्यक्ष सैयद मोइनउद्दीन अशरफ (मोइन मियां) और रजा एकेदमी के चेयरमैन आल्हाज सईद नूरी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की और ज्ञापन सौंपा।

पुलिस कमिश्नर से मुलाकात के बाद सईद नूरी ने मीडिया को यह जानकारी दी। मुस्लिम नेता ने कहा कि राज ठाकरे की घोषणा के बाद मुसलमानों में बेचैनी है। मस्जिदों की प्रबंधन कमेटियां कानूनी विकल्पों पर विचार कर रही हैं। पुलिस कमिश्नर से मुलाकात का मकसद अजान के लिए लाउडस्पीकर के इस्तेमाल की अनुमति प्रदान कराना रहा। ताकि विवाद उत्पन्न होने पर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के लिए पुलिस की अनुमति को दिखाया जा सके। बहुत सारी मस्जिदों की कमेटियों ने लाउडस्पीकर के इस्तेमाल की अनुमति पुलिस से ली है।

नूरी का आरोप है कि देश की मस्जिदों को टारगेट किया जा रहा है। रामनवमी पर मस्जिदों पर भगवा झंडा लहराने की कोशिश की गई। मस्जिदों में तोड़फोड़ करने का भी प्रयास किया गया। सैयद मोइनउद्दीन अशरफ का दावा है कि पुलिस कमिश्नर ने उन्हें आश्वासन दिया है कि मस्जिद कमेटियों से अजान के लिए लाउडस्पीकर के इस्तेमाल की अनुमति के लिए आने वाले आवेदनों पर सम्बंधित थानों को निर्देश जारी किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here