गोरखपुर में एक और मनीष की हत्या ! चुनाव से पहले ये राजनीतिक षड्यंत्र तो नहीं?

गोरखपुर जिले के रामगढ़ताल क्षेत्र में 30 सितंबर की रात फ्री में शराब नहीं देने पर एक कुख्यात बदमाश और उसके भाई तथा साथियों ने एक कर्मचारी को मौत के घाट उतार दिया।

उत्तर प्रदेश में अगले साल के शरू के ही महीनों में ही विधानभा चुनाव होने हैं। उससे पहले वहां आतंकवाद फैलाने से लेकर हत्याओं का दौर शुरू हो गया है। पिछले दिनों गोरखपुर में प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पुलिस द्वारा कथित रुप से पीट-पीटकर मार दिए जाने के बाद यहां एक और हत्या ने प्रदेश में हड़कंप मचा दिया है।

गोरखपुर जिले के रामगढ़ताल क्षेत्र में 30 सितंबर की रात फ्री में शराब नहीं देने पर एक कुख्यात बदमाश और उसके भाई तथा साथियों ने एक कर्मचारी को मौत के घाट उतार दिया। उस कर्मचारी की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने उन्हें मुफ्त में शराब देने से मना कर दिया था। इससे नाराज हिस्ट्रिशीटर और उसके भाई तथा साथियों ने उसकी हॉकी स्टिक और डंडों से बुरी तरह पिटाई कर दी, जिसके कारण बाद में उसकी मौत हो गई। उनके हमले के ससय शॉप में हंगामा खड़ा हो गया और शराब दुकान के कर्मचारी इधर-उधर भागने तथा छिपने लगे।

अस्पताल ले जाते समय मौत
हमले के बाद बदमाश फरार हो गए। उसके बाद घायलों को अस्पातल ले जाया गया, लेकिन एक कर्मचारी ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया, जबकि एक और कर्मचारी की हालत गंभीर बताई जा रही है। उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है।
इस वारदात में हमलावर सीसीटीवी में कैद हो गए हैं। फिलहाल पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी है।

ये भी पढ़ेंः मनीष मर्डर मामलाः एक्शन में योगी, दोषी पुलिसकर्मियों पर होगी ऐसी कार्रवाई

हॉकी स्टिक और डंडों से पिटाई
बता दें कि महाराजगंज के रहनेवाले नागेंद्र प्रताप सिंह का रामगढ़ताल थाना क्षेत्र में वरदायिनी के पास मॉडल शॉप है। उनके बेटे मनीष सिंह उसकी देखरेख करते हैं। मध्य प्रदेश के रीवा जिले के पनगढ़ी निवासी श्रवण प्रजापति का 23 वर्ष का बेटा मनीष मॉडल शॉप में काम करता था। 30 सितंबर की रात कोतवाली क्षेत्र के नामी बदमाश का भाई अपने साथियों के साथ शॉप में पहुंचा और शराब की मांग की। कर्मचारी द्वारा पैसा मांगने पर वे गुस्से में आ गए और मॉडल शॉप के अंदर घुसकर कर्मचारियों की हॉकी स्टिक तथा डंडों से पिटाई शुरू कर दी। इस पिटाई से घायल मनीष प्रजापति की मौत हो गई, जबकि रघु नामक दूसरे कर्मचारी का उपचार किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here