नए साल पर बड़े पैमाने पर मिलावटी शराब तस्करी की थी तैयारी, तभी हो गया ऐसा

नया साल बस अब चंद दिन ही दूर है। इसलिए उसके स्वागत की तैयारी में जश्न मनाने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। इस तरह के जश्न में सबसे ज्यादा जरुरी चीज शराब है।

नए साल का जश्न मनाने लोग तैयारियों में हैं, ऐसे में गैरकानूनी तरीके से शराब की बिक्री करनेवालों पर आबकारी विभाग और पुलिस की पैनी नजर है। आबकारी विभाग ने माहिम में छापा मारकर बड़ी कार्रवाई की है। यहां गैर कानूनी तरीके से नाताल और नए साल पर शराब सप्लाई करने की तैयारी चल रही थी।

आबकारी विभाग को गुप्त सूचना मिली थी कि माहिम के मोरी रोड स्थित कासा कोरीलीना, बिल्डिंग प्लॉट नंबर-1 की तल मंजिल पर शराब का गोरखधंधा चलाया जा रहा है।

गुप्त सूचना पर कार्रवाई
सूचना मिलते ही 26 दिसंबर को आबकारी विभाग के अधिकारियों ने कारखाने पर छापा मारा। छापेमारी में विदेश से आयात की गई उच्च दर्जे की शराब, भारतीय मिलावटी शराब और अन्य राज्यों से लाई गई शराब की बोतलें बरामद की गईं। इसकी कीमत 8 लाख 37 हजार 692 रुपए बताई जा रही है। इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। मिलावटी शराब के उत्पादन, परिवहन और बिक्री पर रोक लगाई गई है। पुलिस और आबकारी विभाग की गैरकानूनी तरीके से शराब का कारोबार करने वालों पर पैनी नजर है।

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्रः विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में राज्यपाल करेंगे हस्तक्षेप?

शराब माफियाओं पर शिकंजा
इससे पहले 25 दिसंबर को भी धारावी झोपड़पट्टी में आबकारी विभाग ने शराब माफियाओ पर नकेल कसी थी। शराब कारोबारी धारावी की तंग गलियों में विदेशी शराब बनाने की फैक्ट्री चला रहे थे। राज्य आबकारी विभाग की निदेशक उषा वर्मा के नेतृत्व में एक टीम ने धारावी में छापा मारा और तीन लोगों को गिरफ्तार किया। इस कारखाने से 3.70 लाख रुपए की शराब सहित अन्य सामग्री बरामद की गई थी। न्यायालय ने तीनो आरोपियों को 28 दिसंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here