विमान दुर्घटना: एक ही रात आया मध्य प्रदेश और मुंबई में विमान संकट काल

देश के अलग-अलग विमान तलों पर हुई दुर्घटनाओं से पूरी रात हड़कंप रहा। सुरक्षा संसाधनों के उन्नत होने और चालक दल की सक्रियता से विमानों को हवाई अड्डे पर ही उतार लिया गया।

देश में एक ही रात दो दुर्घटनाओं से लोग सन्न हैं। यह दुर्घटनाएं गुरुवार रात हुईं हैं, पहली घटना में, मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रनवे में एक एयर एंबुलेंस को आपात स्थिति में उतारा गया। इस घटना से संभले ही थे कि देर रात मध्य प्रदेश सरकार का विमान लैंडिंग के दौरान रनवे से फिसल गया।

मध्य प्रदेश सरकार का विमान रात में कोविड 19 संक्रमितों के लिए उपयोगी एंटी वायरल रेमडेसिविर इंजेक्शन की खेप लेकर ग्वालियर हवाई अड्डे पर लैंडिंग कर रहा था। इस दौरान वह रनवे से फिसल गया। इस हमले में विमान को उड़ा रहे कैप्टन सईद माजिद अख्तर और उनके साथी पायलट शिवशंकर जायसवाल को थोड़ी चोटें आई हैं। दोनों को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया था।

इस दुर्घटना के पहले मुंबई में विमान तल पर भी एक दुर्घटना को बचा लिया गया। नागपुर से हैदराबाद के लिए उड़ान भरनेवाली एयर एंबुलेंस का पहिया उड़ान भरने के बाद ही अलग हो गया था। इसके पश्चात विमान के चालक दल ने आपात की घोषणा कर दी। इसके बाद एयर एंबुलेंस को मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रनवे पर उतारा गया। इस विमान में पांच लोग सवार थे। सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।
मुंबई हवाई अड्डा अत्याधुनिक संसाधनों से परिपूर्ण होने के कारण विमान उतरने के बीच फोम बिछा दिया गया था। जिससे कोई अनहोनी न हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here