मोरबी केबल पुल हादसाः गुजरात में इस तरह मनाया गया शोक

मोरबी दुर्घटना में मृतकों को श्रद्धांजलि देने के लिए अहमदाबाद में मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की उपस्थिति में अहमदाबाद के टाउन हाल में प्रार्थना सभा की गई।

मोरबी में केबल पुल हादसे में मारे गए 135 लोगों के दुख में 2 नवंबर को राज्य भर में शोक मनाया गया। दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना सभा, कैंडल मार्च और दो मिनट का मौन रखा गया। मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल अहमदबाद के टाउनहॉल में आयोजित शोक सभा में शामिल हुए। उनके साथ राज्य मंत्रिमंडल के कई सदस्य, सांसद-विधायक, भाजपा कार्यकर्ता-पदाधिकारी भी इसमें शामिल हुए। राज्य के सभी महानगर पालिकाओं के कार्यालयों समेत अन्य सभी जिला प्रशासन के सरकारी कार्यालयों में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका दिया गया। मोरबी के बाद राजकोट बार एसोसिएशन ने भी आरोपितों की ओर से केस नहीं लड़ने की घोषणा की है।

मोरबी हादसे में दिवंगतों की आत्मा की शांति के लिए राजकोट, सूरत, वडोदरा, अहमदाबाद समेत अन्य महानगर पालिका कार्यालयों में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। बार एसोसिएशन की ओर से मृतकों की आत्मा की शांति के लिए मौन रखा गया। राजकोट के खोडलधाम में भी राष्ट्रीय ध्वजा फहराया हुआ है, इसे भी 2 नवंबर को आधा झुकाया गया।

प्रार्थना सभा का आयोजन
मोरबी दुर्घटना में मृतकों को श्रद्धांजलि देने के लिए अहमदाबाद में मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की उपस्थिति में अहमदाबाद के टाउन हाल में प्रार्थना सभा की गई। इसमें रामधुन और भजनों की प्रस्तुति से दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की गई। अहमदाबाद म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन की ओर से आयोजित प्रार्थना सभा में कैबिनेट मंत्री प्रदीप परमार, अहमदाबाद शहर के मेयर किरीट परमार, स्थानीय सांसद, विधायक, मनपा आयुक्त, मनपा के पदाधिकारी और अधिकारी मौजूद रहे। सभी ने सभा के अंत में दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

जामनगर में शोकसभा
जामनगर में सुबह 11 बजे से 12 बजे तक मोरबी ब्रिज हादसे में मारे गए लोगों की आत्मा की शांति के लिए शोकसभा की गई। जामनगर के एमपी शाह म्यूनिसिपल टाउन हॉल और जामनगर शहर के सभी 1 से 16 वार्ड के कार्यालयों में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया।

वडोदरा में आधा झुकाया गया राष्ट्रध्वज
वडोदरा के कलक्टर कार्यालय समेत विभिन्न सरकारी कार्यालयों के बाहर राष्ट्रध्वज आधा झुकाया गया। वडोदरा मनपा और कलेक्टर कार्यालय में सरकारी अधिकारियों और पदाधिकारियों ने प्रार्थना सभा में शामिल होकर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। इसके अलावा भावनगर के सभी 13 वार्ड में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। भावनगर शहर के मोटीबाग टाउनहॉल में आयोजित शोक सभा में शिक्षा मंत्री जीतू वाघाणी, सांसद भारती शियाल समेत मनपा के पदाधिकारी और अधिकारी शामिल हुए।

सूरत में प्रार्थना सभा
सूरत महानगर पालिका की ओर से अलथाण स्थित कम्युनिटी हॉल में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। यहां महापौर हेमाली बोघावाला, मनपा आयुक्त शालिनी अग्रवाल समेत अन्य अधिकारी, पदाधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे। सभी ने दिवंगतों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। खेड़ा में दिवंगतों की आत्मा की शांति के लिए मौन सभा की गई। लोगों ने कैंडल मार्च कर श्रद्धांजलि दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here