जानिये, क्या करते हैं महारानी एलिजाबेथ की हत्या का ऐलान करने वाले युवक के माता-पिता!

क्रिसमस के दिन पुलिस ने भारतवंशी 19 वर्षीय जसवंत को बर्कशायर स्थित विंडसर कैसल महल से तीर-कमान के साथ पकड़ा है।

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की हत्या के इरादे से विंडसर कैसल महल में तीर-कमान के साथ पकड़ा गया 19 वर्षीय भारतवंशी युवक जसवंत सिंह चेल के माता-पिता एक सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी के निदेशक हैं।

जसवंत के पिता जसबीर चेल ने बेटे द्वारा की गई इस घटना को बेहद गलत बताते हुए कहा कि उनके बेटे को मदद की जरूरत है। हमें लगता है कि हम एक मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। हम मामले का समाधान निकालने का प्रयास कर रहे हैं, जो आसान नहीं होगा।

हैंपशायर के एक गांव में रहता है उसका परिवार
रिपोर्ट के अनुसार जसवंत के माता-पिता उसकी जुड़वा बहन के साथ हैंपशायर के एक गांव में रहते हैं। हैंपशायर के टायनबी स्कूल के एक पूर्व सहपाठी ने बताया कि जसवंत ने सेकेंडरी स्कूल में अच्छा प्रदर्शन किया था।

ये भी पढ़ेंः बचपन का प्यार फेम सहदेव दिरदो सड़क दुर्घटना में घायल, सिर में आई गंभीर चोट

यह है मामला
बता दें कि क्रिसमस के दिन पुलिस ने जसवंत को बर्कशायर स्थित विंडसर कैसल महल से तीर-कमान के साथ पकड़ा था। इसके कुछ ही देर पहले स्नैपचैट पर एक वीडियो डाला गया था, जिसमें जसवंत ने दावा किया था कि वह वर्ष 1919 में अमृतसर में हुए जलियांवाला बाग नरसंहार का बदला लेने के लिए महारानी की हत्या करने का प्रयास करेगा। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद जसवंत को मानसिक स्वास्थ्य अस्पताल में भेज दिया है। स्काटलैंड यार्ड ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पिछले नौ महीने में विंडसर कैसल में घुसपैठ का यह पांचवां मामला था। गृहमंत्री प्रीति पटेल ने तीर-कमान जैसे हथियारों पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here