जानिये, आर्गेनिक चिकन क्यों होता है सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद!

सुपरमार्केट या चिकन शॉप में उपलब्ध चिकन पर कई तरह के लेबल लगे होते हैं। इनमें ग्रास-फेड चिकन, ग्रेन फेड चिकन और आर्गेनिक चिकन मुख्य हैं।

अभी तक ज्यादातर लोगों ने केवल एक ही चिकन का नाम सुना होगा। ग्रेन फेड मुर्गे का यह चिकन बाजार में आम तौर पर मिलता है लेकिन जब आप किसी सुपरमार्केट में जाते हैं तो वहां कई तरह के चिकन उपलब्ध होने से आप असमंजस में पड़ सकते हैं। आप सोच सकते हैं कि आखिर कौन-सा चिकन ज्यादा फायदेमंद और सेहत के लिए उत्तम है। हम आपको इस बारे में पूरी जानकारी दे रहे हैं। इस लेख को पढ़ने के बाद आपको चिकन को लेकर कोई कन्फ्यूजन नहीं रह जाएगा।

चिकन के प्रकार
दरअस्ल सुपरमार्केट या चिकन शॉप में उपलब्ध चिकन पर कई तरह के लेबल लगे होते हैं। इनमें ग्रास-फेड चिकन, ग्रेन फेड चिकन और आर्गेनिक चिकन मुख्य हैं। इनके बारे में अधिकांश लोगों को सही जानकारी नहीं होती। वे इनके अंतर के बारे में ज्यादा नहीं जानते। वे यह भी नहीं जानते कि इनमें ज्यादा फायदेमंद कौन-सा चिकन है। लेकिन जो लोग अपनी सेहत को लेकर सावधान रहते हैं, उनको आर्रगेनिक चिकन खाना चाहिए। कई लोगों को इस बारे में जानकरी तो है, लेकिन सही और पर्याप्त जानकारी नहीं होने से वे भी असमंजस में पड़ सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः जानिये, देश में ‘कड़कनाथ’ की क्यों बढ़ रही है मांग!

इस तरह पाले जाते हैं आर्गेनिक चिकन
चिकन के जानकारों और डायटीशियन एंड न्यूट्रीशन को इसके फायदे और नुकसान के बारे में सही जानकारी होती है।
दरअस्ल आर्गेनिक चिकन का मतलब, उन चिकन से है, जिन्हें आर्गेनिक फूड ही खिलाए जाते हैं। इन्हें कभी भी पक्षियों या जानवरों को खिलाए जाने वाले प्रोडक्ट नहीं दिया जाता और किसी केमिकल या प्रोटीन का सेवन नहीं कराया जाता है। इसके साथ ही इन्हें बिलकुल प्राकृतिक वातावरण में पाला जाता है और इनके खान-पान का विशेष ख्याल रखा जाता है। इन्हें कोई दवा या एंटी-बयोटिक नहीं दी जाती है। इनके खाने में जो अनाज शामिल होते हैं, वे सर्टिफाइड आर्गेनिक फूड होते हैं। इस कारण यह अन्य चिकन की अपेक्षा सेहत के लिए ये फायदेमंद होते हैं।

ग्रेन फेड चिकन

  • जिन मुर्गों को अनाज खिलाया जाता है, वे भी स्वास्थ्य के लिए हानिकरक नहीं होते।
  • ये उतने साफ-सुथरे और प्राकृतिक वातावरण में नहीं पाले जाते, जितने आर्गेनिक चिकन को पाला जाता है।
  • इन पर प्रायः कई तरह की दवाइयो और पेस्टीसाइड का भी छिड़काव किया जाता है।
  • इन्हें गेहूं, कॉर्न, और बार्ले मुख्य रुप से खिलाए जाते हैं।
  • कई स्थानों पर इन्हें सोया और चावल भी खिलाया जाता है।
  • जो चिकन केवल अनाज खाते हैं, उनमें ओमेगा-3 फैटी एसिड काफी कम होता है।
  • इस कारण ग्रेनेड चिकन आर्गेनिक चिकन की अपेक्षा कम स्वास्थ्यवर्धक होते हैं।

इसलिए आर्गेनिक चिकन है ज्यादा फायदेमंद
इन दोनों चिकन से होने वाले फायदे के बारे में विचार किया जाए तो आर्गेनिक चिकन ग्रेनेड चिकन से ज्यादा लाभकारी है। इसमें टोक्सिन और फैट कम होता है। इसके साथ ही आर्गेनिक चिकन में ओमेगा-3 फैटी एसिड की मात्रा भी ज्यादा होती है। इस कारण यह सेहत के लिए ज्यादा उत्तम होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here