जस्टिस उमेश उदय ललित बने भारत के मुख्य न्यायाधीश

जस्टिस यूयू ललित ने देश के नए मुख्य जस्टिस के रूप में शपथ ग्रहण किया। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने उन्हें शपथ दिलाई। 26 अगस्त को जस्टिस एनवी रमना के सेवानिवृत्त होने के बाद जस्टिस यूयू ललित को मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। वे देश के 49वें चीफ जस्टिस हैं।

10 अगस्त को राष्ट्रपति ने जस्टिस ललित को मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया था। चीफ जस्टिस के रूप में उनका कार्यकाल 8 नवंबर तक का होगा। जस्टिस ललित का जन्म 9 नवंबर, 1957 को हुआ था। जून 1983 से उन्होंने वकालत शुरू की।

ये भी पढ़ें – सीएम ट्राफिक में अटके, लग गए सौ के फटके! दंड वसूलनेवाले पर दंडात्मक कार्रवाई

1985 तक बाम्बे हाई कोर्ट में प्रैक्टिस करने के बाद वे जनवरी 1986 में दिल्ली में स्थानांतरित हो गए। अप्रैल 2004 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट में सीनियर एडवोकेट का दर्जा दिया गया। 2 जी के मामले में वे सीबीआई के स्पेशल पब्लिक प्रोसिक्युटर नियुक्त किए गए। उन्हें 13 अगस्त, 2014 को सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here