अमेरिका में बढ़ेगी बंदूक खरीदने की आयु सीमा? जानिये, बाइडेन ने क्या कहा

पिछले दो दशकों में आन-ड्यूटी पुलिस अधिकारियों की तुलना में बंदूक से स्कूली बच्चे अधिक मारे गए हैं। बाइडन ने सवाल किया- 'भगवान के लिए हम और कितने नरसंहार स्वीकार करेंगे।'

अमेरिका में बढ़ रही गोलीबारी की वारदात से चिंतित और आहत राष्ट्रपति जो बाइडन ने व्हाइट हाउस से देश के नाम संबोधन में बंदूक खरीदने की आयु सीमा 18 से बढ़ाकर 21 करने की जरूरत पर जोर दिया है। बाइडन ने कहा-‘कांग्रेस को ‘बंदूक हिंसा की महामारी’ से निपटने के लिए कामनसेंस कानून पारित करने की आवश्यकता है। जिम्मेदार बंदूक मालिकों को उदाहरण पेश करना चाहिए, ताकि दूसरे बंदूक बेचने वाले सीख लें।’

बाइडन ने कहा कि गोलीबारी की घटनाओं को कम करने के लिए उठाए जाने वाले कदमों से किसी के अधिकार नहीं छिनेंगे। यह बच्चों, परिवारों और समुदायों की रक्षा के लिए जरूरी है। यह स्कूल जाने, किराने की दुकान, चर्च जाने की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए जरूरी है।

ऐसे हथियारों पर प्रतिबंध की जरुरत
उन्होंने कहा- ‘हमें घातक हथियारों और उच्च क्षमता वाली गन मैगजीन पर प्रतिबंध को बहाल करना चाहिए। इसे हमने 1994 में पारित किया था। दस साल तक अमेरिका में यह कानून लागू था। तब सामूहिक गोलीबारी की घटनाओं में कमी आई थी। 2004 में रिपब्लिकन ने कानून समाप्त कर दिया। उन्होंने घातक हथियारों को फिर बेचने की अनुमति दी। इसके बाद सामूहिक गोलीबारी की वारदात तीन गुना बढ़ गईं।

बाइडेन ने जताया दुख
बाइडन ने कहा कि पिछले दो दशकों में आन-ड्यूटी पुलिस अधिकारियों की तुलना में बंदूक से स्कूली बच्चे अधिक मारे गए हैं। इस पर देश को सोचने की जरूरत है। बाइडन ने सवाल किया- ‘भगवान के लिए हम और कितने नरसंहार स्वीकार करेंगे।’

आयु सीमा बढ़ाने की जरुरत
राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि अमेरिका को हमला करने वाले हथियारों पर प्रतिबंध लगाने या उन्हें खरीदने के लिए आयु सीमा 18 से बढ़ाकर 21 करने की आवश्यकता है। अगर हम ऐसे हथियारों पर प्रतिबंध नहीं लगा सकते तो उन्हें खरीदने के लिए आयु सीमा बढ़ानी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here