बिहारः उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ के कई ठिकानों पर छापेमारी, ये है मामला

मंत्री समीर महासेठ मधुबनी के रहने वाले हैं। आईटी की टीम ने कंस्ट्रक्शन कंपनी के 12 से ज्यादा ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की है।

बिहार सरकार के उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ के आवास पर इनकम टैक्स (आईटी) की छापेमारी चल रही है। उनके पटना स्थित शिवशक्ति निवास पर 17 नवंबर की सुबह ही आईटी ने छापेमारी की है।

मंत्री समीर महासेठ मधुबनी के रहने वाले हैं। आईटी की टीम ने कंस्ट्रक्शन कंपनी के 12 से ज्यादा ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की है।

बताया जा रहा है कि आईटी की टीम ने पहले सोनभवन स्थित उसके ऑफिस में छापेमारी की। इसके बाद राजधानी पटना के डाकबंगला चौराहे पर स्थित हीरा पन्ना दुकान के पास साकार कंस्ट्रक्शन कंपनी के एक और कार्यालय में छापा मारा। सूत्रों के अनुसार इन कंपनियों में बड़े-बड़े नेताओं ने अपनी पूंजी लगाईं है। फिलहाल कई डाक्यूमेंट्स बरामद कर आगे की जांच की जा रही है।

छापेमारी एक निर्माण कंपनी पर हुई है जिसके डायरेक्टरों से महासेठ की नजदीकी बताई जाती है। माना जा रहा है कि वित्तीय अनियमितता से जुड़े मामलों को लेकर जांच एजेंसियों के रडार पर समीर महासेठ आये हैं। उनका पुराना व्यवसायिक इतिहास रहा है जिस वजह से वित्तीय लेनदेन से जुड़े मामलों में उन पर छापेमारी होने का संदेह जताया जा रहा है।

ये भी पढ़ें – राहुल गांधी मनोरुग्ण, वीर सावरकर को समझने जितना नहीं अक्ल

समीर महासेठ पटना में व्यवसाय करते हैं और ये वैश्य समाज से आने वाले समीर की पहचान नेता के अलावा बिहार में व्यवसायी के रूप में भी है। वह पटना में व्यवसाय करते है। पिछले चुनाव में मधुबनी विधानसभा सीट से इन्होनें एनडीए के घटक दल रहे वीआइपी के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरे भाजता नेता सुमन महासेठ को पराजित किया था। अगस्त 2022 में जब नीतीश कुमार ने एनडीए से नाता तोड़कर राजद और अन्य दलों के साथ महागठबंधन सरकार बनाई तब उन्हें 16 अगस्त को मंत्री बनाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here