ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शनकारी को होगी फांसी, तेहरान कोर्ट ने सुनाया फैसला

ईरान में हिजाब विरोधी आंदोलन में भाग लेने के लिए कई लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन जारी है। विरोध प्रदर्शन 16 सितंबर को शुरू हुआ था। इस बीच, इस आंदोलन में शामिल एक व्यक्ति को तेहरान की एक अदालत ने मौत की सजा सुनाई है। उस व्यक्ति पर आगजनी, दंगा और साजिश का आरोप लगाया गया था। पांच अन्य को 10 साल जेल की सजा सुनाई गई है।

13 नवंबर को विरोध प्रदर्शन में भाग लेने के लिए 750 से अधिक लोगों को आरोपित किया गया था। सितंबर में विरोध प्रदर्शन शुरू होने के बाद से तेहरान में 2,000 से अधिक लोगों को आरोपित किया गया है।

ये भी पढ़ें – लखनऊ होकर चलने वाली जनसाधारण एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों के फेरे किए गए कम!

22 वर्षीय महसा अमिनी की 16 सितंबर को पुलिस हिरासत में मौत के बाद लोग सड़कों पर उतर आए थे। 13 सितंबर को अमिनी अपने परिवार से मिलने तेहरान आई थी। उसने हिजाब नहीं पहना हुआ था। इसलिए पुलिस ने तुरंत उसे गिरफ्तार कर लिया। इस गिरफ्तारी के तीन दिन बाद उसकी मौत हो गई।

कई प्रदर्शनकारी मारे गए
हिजाब विरोधी आंदोलन में भाग लेने के लिए कई लोगों को गिरफ्तार किया गया था। फिर उसकी मौत हो गई। दावा किया गया है कि इसका विरोध करने वालों को गिरफ्तार कर लिया गया और उनकी हत्या कर दी गई। हालांकि पुलिस ने इन दावों को खारिज कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here