पार्थ चटर्जी का महत्वपूर्ण बयान : कोई बचने वाला नहीं है

18 अगस्त को पार्थ चटर्जी ने कहा है कि मामले में कोई बचने वाला नहीं है तो इसे बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार राज्य के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी ने 18 अगस्त को महत्वपूर्ण बयान दिया है। कोर्ट में पेशी के समय उन्होंने कहा है कि मामले में जो लोग भी शामिल हैं, वे नहीं बचेंगे।

ये भी पढ़ें – मंत्री जी अपहरण कांडः नीतीश कुमार ने झाड़ा पल्ला, कही ये बात

गैरकानूनी सामान बरामद
दरअसल पार्थ और अर्पिता के संयुक्त ठिकाने से 50 करोड़ नगदी, 4.5 करोड़ के सोने चांदी के जेवर और कई अन्य गैरकानूनी सामान बरामद हुआ है। इसे लेकर पार्थ चटर्जी लगातार दावा करते रहे हैं कि समान उनका नहीं है। सूत्रों अनुसार उनके घर से बरामद सामानों का संबंध तृणमूल कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से हैं। वह लगातार इस ओर इशारा भी करते रहे हैं। अब जबकि 18 अगस्त को उन्होंने कहा है कि मामले में कोई बचने वाला नहीं है तो इसे बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है। उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता और मंत्रिमंडल से निकाले जाने के बाद खबर है कि वह पार्टी नेतृत्व से नाराज हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here