राजा सिंह को मिली पैंगबर पर टिप्पणी की सजा, ‘सर से तन जुदा’ करने की भाषा बोलने वालों पर कार्रवाई कब

तेलंगाना के कांग्रेस सचिव राशिद खान ने कहा है कि उनके अपने पूर्व के बयान 'आग लगा दो' पर कोई पछतावा नहीं है, वहीं कांग्रेस विधायक फिरोज खान ने कहा है कि यदि राजा सिंह ने माफी नहीं मांगी तो वे मुसलमानों से कहेंगे कि राजा की पिटाई करो।

हैदराबाद में भाजपा के निलंबित नेता टी राजा सिंह के बयान का मुसलमानों द्वारा किए जा रहे विरोध और सर तन से जुदा जैसे लगाए जा रहे नारों का सियासी लाभ उठाने के लिए कांग्रेस भी मैदान में कूद पड़ी है। इससे कट्टरपंथियों को ताकत मिल गई है और वे घटना के तीन दिन हो जाने के बावजूद सड़कों पर उतरकर बवाल कर रहे हैं।

तेलंगाना के कांग्रेस सचिव राशिद खान ने कहा है कि उनके अपने पूर्व के बयान ‘आग लगा दो’ पर कोई पछतावा नहीं है, वहीं कांग्रेस विधायक फिरोज खान ने कहा है कि यदि राजा सिंह ने माफी नहीं मांगी तो वे मुसलमानों से कहेंगे कि राजा की पिटाई करो।

फिरोज खान का भड़काऊ बयान
फिरोज खान ने कहा कि टी राजा सिंह ने पैगंबर मोहम्मद के अपमान के लिए माफी नहीं मांगी तो मैं हर मुसलमानों से कहना चाहता हूं कि वो हैदराबाद में जहां भी मिलें, वहीं उन्हें पीटें। हम एक बार नहीं, बार-बार कानून अपने हाथ में ले सकते हैं।

राशिद खान ने क्या कहा था?
इससे पहले राशिद खान ने कहा था कि अगर राजा सिंह की गिरफ्तारी नहीं हुई तो हम गौशामहल जाकर राजा सिंह के घर में आग लगा देंगे। 24 अगस्त को उन्होंने दोबारा उस बयान को दोहराते हुए कहा कि उन्हें अपने बयान पर कोई पछतावा नहीं है। राशिद खान ने सर तन से जुदा करने नारे को लेकर कहा कि ये नारेबाजी इसलिए हो रही है क्योंकि रसूल के खिलाफ बोला गया है। मुसलमान अपना सिर कटा सकता है, अपनी जान दे सकता है लेकिन रसूल का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकता है।

सर तन से जुदा नारे का समर्थन करते दिखे राशिद खान
एक अन्य वीडियो में राशिद खान अल्लाह हू अकबर, सर तन से जुदा नारे लगाने वाली भीड़ का समर्थन करते नजर आ रहे हैं। वे कह रहे हैं कि अगर हिंदू-मुस्लिम दंगे हुए, बस्तियां जलीं, किसी की हत्या हुई तो इसके लिए राजा सिंह जिम्मेदार होगा।

क्या इन पर होगी कार्रवाई?
हैरान करने वाली बात यह है कि इस तरह की बातें सड़कों पर सार्वजनिक रूप से और वीडियो जारी कर कही जा रही हैं, तथा पुलिस तथा तेलंगाना सरकार कुछ करने को तैयार नहीं है। जबकि टी राजा के बयान पर उन्हें पार्टी से निलंबित करने के साथ ही गिरफ्तार भी किया गया था।  जिस तरह भाजपा ने अपने नेता पर कार्रवाई की है, क्या उसी तरह कांग्रेस भी अपने नेताओं पर कार्रवाई करेगी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here