नेताओं के पूतों की करतूत, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष की गाड़ी में नाबालिग से गैंग रेप!

हैदराबाद के धनी क्षेत्र में गिने जानेवाले जुबली हिल क्षेत्र में गैंग रेप से हड़कंप मचा हुआ है। आरोपियों की राजनीतिक पृष्ठभूमि के कारण प्रकरण को लेकर विरोध तीव्र हो रहा है।

तेलंगाना में एआईएमआईएम, वक्फ बोर्ड और तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेताओं के पूतों ने एक 17 वर्षीय नाबालिग से दिनदहाड़े गैंगरेप किया है। यब प्रकरण हाई प्रोफाइल होने के कारण पुलिस पर आरोपियों को बचाने का आरोप भी लग रहा है। इस घटना में पांच आरोपी बताए जा रहे हैं, जिसमें से तीन नाबालिग हैं।

हैदराबाद के जुबली हिल क्षेत्र के पब में 28 मई की शाम 5 बजे पांच युवक और एक युवती बाहर निकले थे। स्थानीय मीडिया के अनुसार इसमें एक एआईएमआईएम पार्टी के विधायक का बेटा, एक वक्फ बोर्ड के चेयरमैन का बेटा, एक तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेता का बेटा शामिल था। इन लोगों ने युवती को घर छोड़ने के बहाने लाल रंग की कार में बैठाया। आरोप है कि, इसके बाद हैदराबाद की सड़क पर कार में ही इन लोगों ने नाबालिग से गैंग रेप किया।

ऐसे हुआ खुलासा
गैंग रेप को अंजाम देने के बाद युवकों ने पीड़िता को पब के सामने छोड़ दिया। जिसके बाद पीड़िता ने अपने पिता को बुलाया, पिता ने जब बेटी के गले पर हल्के निशान देखे तो पूछा। जिसके बाद प्रकरण प्रकाश में आया।

दर्ज कराया प्रकरण
पीड़िता के पिता की शिकायत पर हैदराबाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 354,323, 376 और पॉक्सो कानून 2012 के अंतर्गत प्रकरण दर्ज किया है। अब तक दो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आए हैं, जिनमें से एक नाबालिग है।

पुलिस की जानकारी
डीसीपी पश्चिम जोन जोएल डेविस के अनुसार इस प्रकरण में प्रदेश के गृहमंत्री का बेटा शामिल नहीं है। पीड़िका के बयान, सीडीआई और सीसीटीवी फुटेज के आधारा पर यह निश्चित किया गया है। इसके अलावा विधायक के बेटे के विरुद्ध भी सबूत न होने का दावा पुलिस कर रही है। इस प्रकरण में टीआरएस नेता और वक्फ बोर्ड के येचरमैन के बेटे के विरुद्ध साक्ष्य प्राप्त हुए हैं।

भाजपा और विपक्षी दल आक्रामक
इस प्रकरण को लेकर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस ने प्रदर्शन किया है। भाजपा ने पुलिस थाने के सामने प्रदर्शन किया है।

पब में नाबालिगों को प्रवेश
पब में नाबालिगों के प्रवेश पर रोक होने के बाद भी कैसे प्रवेश दिया जा रहा है। यह भी जांच का विषय है। इसमें पब के विरुद्ध कार्रवाई होनी चाहिए, परंतु अब तक पुलिस ने इस पर कुछ भी नहीं कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here