झारखंडः अब लड़की पर फेंका तेजाब, रिम्स में भर्ती, परिजनों ने की ये मांग

चतरा के हंटरगंज थाना क्षेत्र में धेबू गांव की रहने वाली पीड़िता की मां देवंती देवी ने बताया कि चार अगस्त की रात उनकी 17 वर्षीय लड़की सोई हुई थी।

झारखंड में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। दुमका की लड़की अंकिता सिंह को जलाकर मारने से लोगों के आंसू सूखे भी नहीं थे कि अब चतरा में लड़की पर तेजाब फेंककर मारने की कोशिश का मामला सामने आया है। एकतरफा प्यार में सनकी प्रेमी की इस वारदात से सनसनी फैल गई है।

घटना चार अगस्त की है। लड़की की हालत बिगड़ने पर उसे रिम्स लाया गया, तब मामले का खुलासा हुआ। लड़की को रांची के रिम्स में भर्ती कराया गया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता को पीड़िता से मिलने रिम्स पहुंचे। मंत्री ने इलाज के साथ अन्य सुविधाएं दिलाने का दिया भरोसा दिया।

सोते में डाला तेजाब
चतरा के हंटरगंज थाना क्षेत्र में धेबू गांव की रहने वाली पीड़िता की मां देवंती देवी ने बताया कि चार अगस्त की रात उनकी 17 वर्षीय लड़की सोई हुई थी। तभी संदीप भारती नाम के लड़के ने उस पर तेजाब छिड़क दिया और मारने की कोशिश की। परिजन लड़की को आनन-फानन में गया लेकर गए, यहां उसे भर्ती कराया लेकिन उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे रिम्स रेफर कर दिया गया।

बेटी की स्थिति खराब
देवंती देवी ने बताया कि उसकी बेटी की स्थिति काफी खराब है। वह मांग करती है कि संदीप भारती को भी उसी प्रकार सजा मिले, जिस प्रकार अंकिता के आरोपित को सजा दी जाने की उम्मीद है। देवंती देवी ने सरकार से मांग की कि राज्य सरकार उनकी बेटी की भी उसी प्रकार मदद करे, जिस प्रकार अंकिता और उसके परिजनों को मदद कर रही है।

यह भी पढ़ें -भूपेन्द्र चौधरी ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा, नई जिम्मेदारी को लेकर कही ये बात

पुलिस पर लापरवाही का आरोप
देवंती देवी ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी की सुरक्षा के लिए प्रशासन से पहले भी मांग की थी लेकिन पुलिस ने ध्यान नहीं दिया। आखिरकार संदीप भारती ने उनकी बेटी पर तेजाब फेंक दिया। सरकार से वह मांग करती है कि उनकी बेटी को भी उसी प्रकार न्याय मिले जैसे अंकिता को मिल रहा है। इधर पीड़िता की बहन ने बताया कि संदीप भारती उसकी बहन को काफी दिन से तंग कर रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here