कंझावला कांडः चश्मदीद का बयान दर्ज, स्पेशल सीपी ने कही ये बात

कंझावाला कांड में दूसरा सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमें साफ दिखाई दे रहा है कि मृतका अकेले नहीं, बल्कि उसकी एक सहेली भी स्कूटी पर साथ में सवार है।

राजधानी दिल्ली के सुल्तानपुरी से कंझावला तक कार से घसीटे जाने के बाद युवती की मौत मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि मृतका युवती के साथ स्कूटी में एक अन्य युवती सवार थी। पुलिस ने युवती की तलाश कर उसका बयान दर्ज कर लिया है। उसे मामूली चोट आई है। फिलहाल दिल्ली पुलिस इस मामले में आगे की जांच कर रही है।

इस मामले की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, वैसे-वैसे एक के बाद एक नए-नए खुलासे हो रहे हैं। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि हादसे के वक्त मृतका के साथ उसकी एक अन्य महिला साथी भी स्कूटी पर सवार थी। जैसे ही कार ने स्कूटी को टक्कर मारी, उसके बाद दूसरी युवती सड़क पर गिर पड़ी, जिसे मामूली चोट आई। लेकिन मृतका के कपड़े और उसका पैर गाड़ी में फंस गया। इसके वह कार में फंसी रह गई और चालक उसे घसीटते हुए कार चलाता रहा। इसकी वजह से मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

चश्मदीद का बयान दर्ज
लगातार जांच कर रही पुलिस आखिरकार दूसरी युवती तक भी पहुंच गई है। पुलिस मुख्यालय में प्रेस वार्ता के दौरान स्पेशल सीपी लॉ एंड ऑर्डर सागर प्रीत हुड्डा ने कहा कि पुलिस ने दूसरी लड़की का बयान दर्ज कर लिया है। हादसे के वक्त युवती साथ थी, इसलिए पुलिस के लिए उसका बयान अहम साबित हो सकता है।

मिल सकती है अहम जानकारी
दूसरी लड़की का बयान पूरे मामले में बेहद अहम बताया जा रहा है। हादसा कैसे हुआ, लड़कों ने टक्कर के बाद रोकने की कोशिश की या नहीं। ऐसी तमाम बातें हैं जो स्कूटी पर सवार दूसरी युवती बखूबी और साफ तरीके से बता सकती है।

सीसीटीवी फुटेज से हुआ खुलासा
वहीं इस मामले से जुड़ा दूसरा सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमें साफ दिखाई दे रहा है कि मृतका अकेले नहीं, बल्कि उसकी एक सहेली भी स्कूटी पर साथ में सवार हैं। यहां तक की मृतका पीछे बैठी है और उसकी दोस्त स्कूटी चलाती दिख रही है। फुटेज में मृतका और उसकी दोस्त एक पार्टी से बाहर निकलते हुए दिखाई दे रहे हैं।

इस तरह हुआ हादसा
कुछ दूरी तय करने के बाद मृतका ने अपनी दोस्त से स्कूटी लेकर खुद चलाने लगती है, जिससे बाद हादसा होता है। इसमें उसकी दोस्त को मामूली चोट लगती है, जबकि मृतका का पैर कार में फंस जाता है और वह कार के साथ घसीटती चली जाती है, जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई।

पुलिस लगातार मामले में जांच में जुटी हुई है और गृह मंत्री भी पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है। गृह मंत्रालय ने पूरी रिपोर्ट के साथ-साथ जांच से जुड़ी पल-पल की जानकारी देने के आदेश भी दिए हैं।

जांच कमेटी का गठन
इस मामले में 2 जनवरी की शाम को दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा को एक आदेश जारी कर गृह मंत्रालय द्वारा जांच कमेटी बनाई गई। कमेटी में दिल्ली पुलिस की स्पेशल कमिश्नर शालिनी सिंह को जांच का जिम्मा सौंपा गया था। इसके बाद शालिनी सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण किया, जहां युवती का शव मिला था। इस दौरान उन्होंने तमाम पहलुओं से घटनाक्रम की बारीकियों को समझने का प्रयास किया।

यह भी पढ़ें – रक्षा मंत्री की चेतावनी: अरुणाचल को उपहार, चीन को फटकार

घटना से पहले होटल में थी दोनों युवती
पुलिस सूत्रों के अनुसार, इस मामले में एक और नया मोड़ आया है। मौत से पहले मृतका रोहिणी सेक्टर 23 के ओयो होटल में सहेली के साथ आई थी। होटल के कर्मचारी का कहना है कि मृतका और उसकी दोस्त का होटल में ही कुछ लड़कों से झगड़ा हुआ था। उसने बताया कि इससे पहले भी उनका होटल आना-जाना था। पुलिस होटल कर्मचारियों से लगातार पूछताछ कर रही है।

इस मामले में पुलिस मुख्यालय में मीडिया ब्रीफिंग करते हुए दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी लॉ एंड ऑर्डर सागर प्रीत हुड्डा ने बताया कि पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिला है, उसके आधार पर युवती की सहेली का 164 के तहत बयान दर्ज कराया गया है। उम्मीद है कि इस मामले में यह एक अहम सबूत साबित होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here