पाकिस्तान में चीनी नागरिकों पर आतंकी हमला, धमाके में तीन चायनीज सहित चार लोगों की मौत

पाकिस्तान में चीनी नागरिकों पर बढ़ते हमले के कारण चीन से उसके संबंध बिगड़ने का संदेह व्यक्त किया जा रहा है। दूसरी ओर पाकिस्तान में चीन के प्रति नफरत बढ़ने की बात भी कही जा रही है।

पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर और सिंध प्रांत की राजधानी कराची में कराची विश्वविद्यालय के पास एक वैन में हुए विस्फोट ने पूरे इलाके को दहला दिया है। विस्फोट में तीन चीनी नागरिकों सहित चार लोगों की मौत हो गई। कई अन्य लोग घायल हैं। पुलिस ने मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका व्यक्त की है।

पाकिस्तान में चीनी नागरिकों पर बढ़ते हमले के कारण चीन से उसके संबंध बिगड़ने का संदेह व्यक्त किया जा रहा है। दूसरी ओर पाकिस्तान में चीन के प्रति नफरत बढ़ने की बात भी कही जा रही है।

चीनी नागरिकों को बनाया गया निशाना
जानकारी के मुताबिक कराची विश्वविद्यालय के पास स्थित चीनी भाषा शिक्षण केंद्र कन्फ्यूशियस इंस्टीट्यूट के सामने खड़ी एक सफेद वैन में पाकिस्तानी समय के अनुसार 26 अप्रैल दोपहर एक बजकर 52 मिनट पर तेज धमाका हुआ। धमाके के बाद वैन में आग लग गई। लोगों ने वहां आग की लपटें और धुएं का गुबार उठते देखा। इस विस्फोट में कन्फ्यशियस इंस्टीट्यूट के निदेशक हुआंग गुइपिंग और उनके साथी डिंग म्यूपेंग व चेन साई की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इन तीनों चीनी नागरिकों के अलावा हुआंग के वैन चालक पाकिस्तानी नागरिक खालिद की भी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

ये भी पढ़ें – रक्षा क्षेत्र में भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा देश, पहले- दूसरे नंबर पर हैं ये देश

वैन सिलेंडर हुआ विस्फोट 
घटना के तुरंत बाद वहां पुलिस और बचाव दल को भेजा गया। बताया गया कि मस्कान चौरंगी के पास इस वैन में सिलेंडर विस्फोट हुआ है। पुलिस इसके पीछे की वजह का पता लगा रही है। चार लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। कई अन्य घायल हैं। घायलों को अस्पताल भेजा गया है। कई घायल गंभीर अवस्था में हैं, इसलिए मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। सिंध के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह ने घायलों को डाउ विश्वविद्यालय अस्पताल ले जाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्होंने आतंकवाद निरोधी विभाग को सक्रिय कर कराची के आयुक्त से पूरे मामले की रिपोर्ट तलब की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here