इंजीनियर पिता ने कर दी मासूम की हत्या, जानें वजह 

आरोपी राहुल परमार ने अपनी मासूम बेटी की हत्या करने के बाद उसका शव झील में फेंक दिया था। इसके बाद उसने खुद आत्महत्या करने की कोशिश की।

बेंगलुरु से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक इंजीनियर पिता ने अपनी दो साल की बेटी हत्या कर दी। उसने अपनी बेटी को इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि उसके पास उसको खिलाने के लिए कुछ नहीं था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी का नाम राहुल परमार बताया जा रहा है, जो गुजरात का रहने वाला है। पुलिस ने बच्ची का शव भी बरामद कर लिया है।

पिछले 6 महीने से था बेरोजगार 
बेंगलुरु पुलिस के मुताबिक, आरोपी राहुल परमार ने अपनी मासूम बेटी की हत्या करने के बाद उसका शव झील में फेंक दिया था। इसके बाद उसने खुद आत्महत्या करने की कोशिश की। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि हत्या करने से पहले उसने अपनी मासूम बच्ची को कार में घुमाया, उसके खाने के लिए कुछ बिस्कुट और चॉकलेट खरीदे, उसके साथ खेला भी। लेकिन उसके बाद उसने उसकी हत्या कर दी, क्योंकि उसके पास उस मासूम को खाना खिलाने के लिए पैसे नहीं थे। आरोपी राहुल ने पुलिस को बताया कि वह पिछले 6 महीने से बेरोजगार था। उसे व्यापार में भारी नुकसान हुआ था। जिसकी वजह से वह कर्ज में डूब गया. कर्ज से छुटकारा पाने के लिए उसने अपनी पत्नी के गहने तक गिरवी रख दिए थे और पत्नी से गहने चोरी होने को लेकर झूठ बोला था।

आरोपी ने कबूला अपना जुर्म 
पुलिस ने बताया कि आरोपी परमार ने घर से गहने चोरी होने की शिकायत पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई थी। पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि राहुल ने ही अपने घर से सोने के गहने चोरी कर गिरवी रखे थे। उसने झूठा मामला दर्ज कराया है। हालांकि पुलिस ने उसे चेतावनी दी थी और थाने में बुलाया था। वहीं, इस मामले में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया है। पुलिस ने कोलार के केंदत्ती गांव के झील से बच्ची का शव बरामद किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here