सुरक्षा अलर्ट, ड्रोन और मैग्नेट बम से हो सकता है खतरा!

स्वतंत्रता दिवस पर देश में वातावरण बिगाड़ने का प्रयत्न सीमा पार से हो सकता है। इसको लेकर सुरक्षा एजेंसियों ने चेतावनी जारी की है।

स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले खुफिया अलर्ट मिलने के बाद राजधानी दिल्ली की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। खुफिया इकाइयों ने 10 पन्नों का अलर्ट जारी कर आतंकी हमले की बात कही है। इसमें कई तरह की सतर्कता बरतने को कहा गया है। खुफिया रिपोर्ट में खासतौर से ड्रोन एवं मैगनेट बम (स्टिकी बम) जैसी चीजों से सतर्क रहने को कहा गया है। साथ ही लश्कर-ए-तैयबा व जैश-ए-मोहम्मद जैसे कुख्यात आतंकी संगठन के सक्रिय होने की बात कही गई है।

आसमान से आफत
सूत्रों की माने तो आसमान को सुरक्षित करने के लिए विशेष तौर पर निगरानी करने पर जोर दिया गया है। खुफिया एजेंसियों का यह मानना है कि मैगनेट बम का इस्तेमाल करने की फिराक में आतंकी संगठनों के जुटे होने का पता चला है। यह आशंका जताई जा रही है कि संदिग्ध आतंकी वाहन में मैगनेट बम (स्टिकी बम) जैसे चीजें चिपका सकते हैं।

ऐसे पहुंचा सकते हैं बम
मैगनेट बम ड्रोन की मदद से पहुंचाए जा सकते हैं। इसलिए एंटी-ड्रोन डिटेक्शन सिस्टम की लालकिले पर तैनाती की जा रही है। इतना ही नहीं ड्रोन हमले की आशंका को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने हवा में उड़ने वाली चीजों पर रोक लगाने के साथ ही सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू भी कर दी है।

इसके तहत पैरा-ग्लाइडर, पैरा-मोटर्स, हैंग ग्लाइडर, यूएवी, यूएएस, माइक्रोलाइट एयरक्राफ्ट, रिमोट से चलने वाले विमान, हॉट एयर बैलून, छोटे आकार के बैटरी से चलने वाले एयरक्राफ्ट, क्वाडॉप्टर्स और पैरा जंपिंग उड़ान पर प्रतिबंध लागू रहेगी। लालकिला के आसपास ड्रोन के संचालन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

ये आतंकियों के निशाने पर 
सूत्रों की माने तो आतंकियों के निशाने पर महत्वपूर्ण सिक्योरिटी इंस्टॉलेशन, आर्मी पोस्ट, ऐतिहासिक इमारत, धार्मिक व आर्थिक महत्व के ठिकाने, भीड़भाड़ वाले बाजार, मेट्रो, रेलवे स्टेशन, बस अड़डे और एयरपोर्ट शामिल हैं। यह खुफिया अलर्ट दिल्ली पुलिस, जीआरपी, लोकल पुलिस और कई प्रदेशों की पुलिस को भेजा गया है।

यह भी पढ़ें – स्वतंत्रता दिवस पर आईबी ने जारी किया अलर्ट, दिल्ली सहित निशाने पर देश के ये शहर

राजधानी दिल्ली में कड़ी सुरक्षा
खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के बाद दिल्ली पुलिस ने राजधानी के वीवीआईपी इलाकों में सुरक्षा कड़ी कर दी है। इसके साथ ही लालकिले के रूट में करीब 25 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की बात कही गई है। इतना ही नहीं पांच हजार अर्धसैनिक बलों को राजधानी के चप्पे-चप्पे पर तैनात के लिये कहा गया है। वहीं, लालकिला और आसपास के इलाके में 500 से ज्यादा विशेष कमांडो दस्ते तैनात रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here