महाराष्ट्र में मंदिर पर सरकार और विपक्ष में इस तरह बढ़ रहा है ‘रार’ !

महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस और भाजपा के कई अन्य बड़े नेताओं ने मंदिरों को खोलने की मांग की है और यह मांग नहीं मानने पर आंदोलन तेज करने की धमकी दी है।

महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप एक बार फिर बढ़ने से चिंता बढ़ गई है। इस कारण महाराष्ट्र की महाविकास आघाड़ी सरकार एक बार फिर राज्य में प्रतिबंध बढ़ाने पर विचार कर रही है। केरल से सबक लेते हुए सरकार त्योहारों के समय नाइट कर्रफ्यू लगाने पर भी विचार कर रही है, वहीं भारतीय जनता पार्टी अब प्रतिबंधों में ढील देने की मांग कर रही है। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इसी कड़ी में नासिक के रामकुंड के सामने प्रदर्शन किया और मंदिरों को खोलने की मांग करते हुए नारेबाजी की।

नासिक में शंख नाद
नासिक में मंदिरों को खोलने के लिए आंदोलन करते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने ‘मदिरा चालू मंदिर बंद’ जैसे नारे लगाकर प्रदेश की उद्धव सरकार की आलोचना की। आंदोलनकारियों ने जल्द से जल्द प्रदेश के मंदिरों को खोलने की मांग करते हुए कहा कि इससे मंदिर के पुजारी से लेकर फूल माला बेचने वाले लोगों तक को रोजगार मिलेगा और उन्हें आर्थिक परेशानियों से निजात मिलेगी।

भाजपा ने पहले ही की थी घोषणा
बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस और भाजपा के कई अन्य बड़े नेताओं ने मंदिरों को खोलने की मांग की है और यह मांग नहीं मानने पर आंदोलन करने की धमकी दी है। अब इस मुद्दे पर सरकार और विपक्ष के बीच तकरार बढ़ने के आसार दिख रहे हैं। सरकार जहां कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर को लेकर चिंतित है तो वहीं विपक्ष की मंदिरों को खोलने की अनुमति देने की मांग ने उसकी परेशानी और बढ़ा दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here