नफरत फैलाने वाले पोस्ट करने वालों की अब खैर नहीं, दिल्ली पुलिस इन धाराओं के तहत करेगी कार्रवाई

विभिन्न धर्मों के कई व्यक्तियों के खिलाफ यह प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें साइबर स्पेस में अशांति पैदा करने के इरादे से झूठी और गलत जानकारी को बढ़ावा देने की धाराएं लगाई गई हैं।

दिल्ली पुलिस की इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशन (आईएफएसओ) यूनिट ने नफरत के संदेश फैलाने व सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के आरोप में कई लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। कार्रवाई की जद में वे लोग हैं जिनके संदेश के जरिये विभिन्न लोगों को उकसाने में मदद मिल रही है और ऐसी स्थिति पैदा हो रही है, जिससे सार्वजनिक शांति बनाए रखने में मुश्किल होती है। ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने की पुष्टि आईएफएसओ यूनिट के डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ने की।

कई धाराओं के तहत कार्रवाई
उन्होंने कहा कि विभिन्न धर्मों के कई व्यक्तियों के खिलाफ यह प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें साइबर स्पेस में अशांति पैदा करने के इरादे से झूठी और गलत जानकारी को बढ़ावा देने की धाराएं लगाई गई हैं। मामला दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस विभिन्न सोशल मीडिया संस्थाओं की भूमिकाओं की भी जांच करेगी। साथ ही इस संबंध में कुछ लोगों के सोशल मीडिया यूआरएल की भी जांच की जाएगी। इसके लिए सोशल मीडिया के जिन भी प्लेटफार्म का इस्तेमाल किया गया है, उन प्लेटफार्म से भी दिल्ली पुलिस संपर्क करेगी।

आरोपियों में इमके भी नाम
डीसीपी के मुताबिक कार्रवाई की जद में आने वालों में नवीन कुमार जिंदल, शादाब चौहान, सबा नकविक, मौलाना मुफ्ती नदीम, अब्दुर रहमान और गुलजार अंसारी शामिल हैं। दिल्ली पुलिस ने इन लोगों सहित कुछ अन्य के खिलाफ विभिन्न प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here