दिल्लीः मनीष सिसोदियो होंगे गिरफ्तार? आबकारी मामले में सीबीआई का ऐसे कस रहा है शिकंजा

दिल्ली में शराब बिक्री को लेकर लाई गई नई आवकारी नीति में भ्रष्टाचार की जांच कर रही सीबीआई ने 19 अगस्त को सात राज्यों के 21 स्थानों पर छापेमारी की है।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पर सीबीआई का शिकंजा कसता जा रहा है। 19 अगस्त की सुबह से ही एजेंसी के अधिकारियों की कई टीम सिसोदिया के घर सहित 21 ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। इस छापेमारी की जानकारी स्वयं उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने ट्वीट कर दी है। यह कार्रवाई नई आबकारी नीति को लेकर की जा रही है। मामले में उन पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।

पिछले महीने उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने दिल्ली के मुख्य सचिव की रिपोर्ट के आधार पर उपमुख्यमंत्री सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। सिसोदिया के पास आबकारीआबकारी विभाग भी है और इसमें बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं।

सिसोदियो पर आरोप
सिसोदिया पर आरोप है कि उन्होंने आबकारी नीति के नियमों की अनदेखी की और टेंडर निकाला। इस तरह सरकार ने अनुचित तरीके से शराब ठेकेदारों को लाभ पहुंचाया। इसके साथ ही शराब के लाइसेंस देने में भी नियमों का पालन नहीं किया गया। इसके आलावा टेंडर देने के बाद शराब ठेकेदारों के 144 करोड़ रुपए माफ कर दिए गए। मुख्य सचिव की रिपोर्ट में कहा गया कि कोरोना के बहाने लाइसेंस शुल्क माफ कर दिया गया। इससे सरकार के राजस्व में भारी नुकसान पहुंचने की बात रिपोर्ट में कही गई है।

उपमुख्यमंत्री के आवास सहित 21 ठिकानों पर सीबीई का छापा
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की टीम पहुंची है। इसकी सूचना सिसोदिया ने खुद 19 अगस्त को ट्वीट कर दी। उन्होंने कहा कि उनके घर सीबीआई पहुंची है और वह जांच में सहयोग करेंगे।

सिसोदिया ने लगाया आरोप
-सिसोदिया ने कहा कि वह कट्टर ईमानदार हैं। लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं। बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है। इसीलिए हमारा देश अभी तक नम्बर-1 नहीं बन पाया।

-सिसोदिया ने कहा कि हम सीबीआई का स्वागत करते हैं। जांच में पूरा सहयोग देंगे ताकि सच जल्द सामने आ सके। अभी तक मुझ पर कई केस किए लेकिन कुछ नहीं निकला। इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा। सिसोदिया ने कहा कि देश में अच्छी शिक्षा के लिए उनका काम रोका नहीं जा सकता।

-सिसोदिया ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि ये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के शानदार काम से परेशान हैं। इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और शिक्षा मंत्री को पकड़ा है ताकि शिक्षा स्वास्थ्य के अच्छे काम रोके जा सके। उन्होंने कहा कि हम दोनों के ऊपर झूठे आरोप लगाए गए हैं। कोर्ट में सच सामने आ जाएगा।

-उन्होंने कहा कि उनको साजिशें तोड़ नहीं पाएंगी। दिल्ली के लाखों बच्चों के लिए ये स्कूल बनाए हैं, लाखों बच्चों की जिंदगी में आई मुस्कान उनकी ताकत है।

सात राज्यों में छापा
दिल्ली में शराब बिक्री को लेकर लाई गई नई आवकारी नीति में भ्रष्टाचार की जांच कर रही सीबीआई ने 19 अगस्त को सात राज्यों के 21 स्थानों पर छापेमारी की है। इसमें उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का आवास भी शामिल है। इससे जुड़ी एफआईआर में 4 नौकरशाहों सहित मनीष सिसोदिया का नाम भी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here