किसान आंदोलन : जानें कब खत्म होगी दीप सिद्धू की लुकाछिपी

दीप सिद्धू किसान आंदोलन में सितंबर में शामिल हुआ था। पुलिस के साथ अंग्रेजी में उसकी बातचीत की रिकॉर्डिंग बहुत वारयल हुई थी।

दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर हुए उत्पात के आरोप में 30 से अधिक लोगों पर एफआईआर दर्ज किये गए हैं। ट्रैक्टर परेड के नाम पर लाल किले के अंदर प्रवेश करके तोड़फोड़ की गई। राष्ट्रीय ध्वज का अवमान किया गया। इस सबके लिए भड़कानेवालों में एक नाम सामने आया था अभिनेता दीप सिद्धू का। वो अब फरार है और एस लुकाछिपी में वीडियो जारी करके अपना पक्ष रख रहा है।

दीप सिद्धू 26 जनवरी के बाद से ही गायब है। पुलिस ने एफआईआर दर्ज करके उसके विरुद्ध लुक आउट नोटिस जारी कर दिया है। इसके बाद एक ताजा वीडियो दीप सिद्धू ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से जारी किया है। जिसमें उसने कहा है कि वो सबूत जुटा रहा है। दो दिन बाद वो कुद पुलिस के सामने पेश हो जाएगा।

ये भी पढ़ें – बिहार : अब सुशांतसिंह राजपूत के भाई को दिनदहाड़े मार… पढ़ें पूरी खबर

किसान नेताओं पर आरोप
दीप सिद्धू ने उत्पात मचाने का आरोप लगने के बाद किसान नेताओं को चेताया है। उसने कहा है कि किसान नेता लगातार दो महीनों से लोगों को भड़का रहे थे। आंदोलन स्थल सिंघु सीमा पर उकसानेवाले गाने बजाए जा रहे थे। 25 जनवरी को जब दिल्ली पुलिस द्वारा दिये गए रूट पर ट्रैक्टर परेड निकालने की बात हुई तो संयुक्त किसान मोर्चा के बल पर जमकर बवाल हुआ था।

कर दूंगा बेनकाब

दीप सिद्धू ने 27 जनवरी को सोशल मीडिया से जारी किये गए वीडियो में किसान नेताओं को कहा था कि, तुमने मुझे गद्दार का सर्टिफिकेट दिया है, यदि मैंने तुम्हारी परतें खोलनी शुरू कर दी तो तुम्हें दिल्ली से भागने का रास्ता नहीं मिलेगा। मुझे इसलिए लाइव आना पड़ा क्योंकि, मेरे विरुद्ध नफरत फैलाई जा रही है। बहुत झूठ फैलाया जा रहा है। मैं इतने दिनों से सब बर्दाश्त कर रहा था क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि हमारे संघर्ष को कोई नुकसान पहुंचे। लेकिन आप जिस पड़ाव पर आ गए हैं वहां कुछ बातें करना बहुत जारूरी हो गया है।

ये भी पढ़ें – महाराष्ट्र : खोपोली का वो हटेली खोपड़ी कौन?

कौन हैं दीप सिद्धू?
पंजाब के मुक्तसर जिले का रहनेवाला दीप सिद्धू लॉ ग्रेजुएट है। कुछ दिन तक बार असोशिएशन का सदस्य भी रहा है। इस बीच किंगफिशर मॉडल हंट अवार्ड जीता और फिर पंजाबी फिल्मों की ओर रुख कर लिया।2015 में पहली फिल्म रमता जोगी रिलीज हुई। इसके बाद 2018 में दोरा दास नुम्बरिया में काम मिला।

दीप सिद्धू 2019 के लोकसभा चुनावों में गुरुदासपुर से भाजपा उम्मीदवार सनी देओल के साथ था। इस दौरान की उसकी फोटो जब किसान आंदोलन के दौरान वायरल हुई तो सनी देओल ने साफ किया कि उनका तथा उनके परिवार का दीप सिद्धू के साथ कोई संबंध नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here