और कितने लोगों की बलि लेगा किसान आंदोलन? अब हुआ ऐसा

केंद्र के तीनों कृषि कानून को रद्द करने की मांग को लेकर नवंबर 2020 से ही दिल्ली के बॉर्डर में कुछ किसान आंदोलन कर रहे हैं।

पिछले करीब 11 महीनों से दिल्ली की सीमाओं पर किसान आंदोलन कर रहे हैं। इस बीच इनके आंदोलन स्थल पर हत्या से लेकर रेप और छेड़छाड़ तक के अपराध घटने के मामले सामने आ चुके हैं। अब सिंघु बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन स्थल के पास एक युवक की हत्या का ताजा मामला सामने आया है। कुंडली थाने की पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

इसलिए कर दी गई हत्या
मिली जानकारी के अनुसार सिंघु सीमा पर कुंडली क्षेत्र में निहंगों ने एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। इतने से भी उनका मन नहीं भरा तो उन्होंने उसका एक हाथ भी काट दिया। युवक ने कथित रुप से गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान किया था। इस हत्या के बाद आसपास के क्षेत्र में सनसनी फैल गई है।

पुलिस ने लाश को नीचे उतारा
मृतक युवक की उम्र 35 वर्ष बताई गई है। उसके शरीरी पर धारदार हथियार से हमला करने के निशान पाए गए हैं। उसकी लाश मिलने के बाद बॉर्डर पर हंगामा शुरू हो गया। भारी हंगामे के बीच पुलिस ने लाश को नीचे उतारा और सिविल अस्पताल ले गई।

भी पढ़ेंः कांग्रेस बताए गांधी की हत्या में नेहरू का क्या हित था – रणजीत सावरकर

निहंगों का दावा
निहंगों ने दावा किया है कि उन्होंने युवक द्वारा गुरु ग्रंथ साहिब के अपवित्र करने का वीडियो भी बनाया था। मृतक व्यक्ति ने स्वीकार किया था कि उसे 30 हजार रुपए के बदले गुरु ग्रंथ साहिब को अपवित्र करके माहौल बिगाड़ने के लिए किसानों के आंदोलन स्थल पर भेजा गया था। बता दें कि तीनों कृषि कानून को रद्द करने की मांग को लेकर नवंबर 2020 से ही दिल्ली के बॉर्डर में कुछ किसान आंदोलन कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here